आश्रय मंदिर निर्माण के लिए पत्रकार ने दी 4 एकड़ जमीन

इंदौर। कुछ दिन पहले नगर निगम की गाड़ी में मवेशियों से भी बदतर हालत में शहर के कुछ क्षेत्रों से भिखारियों को उठाकर क्षिप्रा में छोड़ने की घटना से इंदौर का सिर शर्म से झुक गया था। इस बुरी घटना से अभिनेता सोनू सूद का दिल भी द्रवित हुआ था।ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो इस उद्देश्य से उन्होंने इंदौर में आश्रय मंदिर बनाने संबंधी वीडियो मैसेज जारी किया था। उनके इस सपने को पूरा करने में पत्रकार संजय लुणावत (6पीएम) ने तत्परता दिखाते हुए आश्रय मंदिर के लिए 4 एकड़ जमीन देने की घोषणा का पत्र भी अभिनेता सूद को लिख दिया है। अगले पखवाड़े सोनू सूद इंदौर आएंगे, इससे पहले उनकी टीम आकर जमीन का अवलोकन करेगी। सब मनोनुकूल होने पर पहले चरण में आश्रय मंदिर में 100 फ्लैट निर्मित किए जाएंगे।
इस घटना के बाद फ़िल्म अभिनेता सोनू सूद ने मदद के लिए मार्मिक वीडियो सन्देश इंदौर के लिए जारी किया था। जिसमें आश्रय मंदिर बनाकर बुजुर्गों की मदद के लिए उन्होंने इंदौरियों से सहयोग चाहा था। ‘प्रजातंत्र’से चर्चा में पत्रकार संजय लुणावत ने बताया कि वो वीडियो देखने के बाद मेरी सोनू सूद से वीडियो कॉलिंग पर चर्चा हुई। मैंने उन्हें आश्वस्त किया कि आप आश्रय मंदिर की योजना शुरु करें मैं इस काम के लिए 4 एकड़ जमीन देने को तैयार हूं। मैंने उन्हें इसी आशय का पत्र भी लिखा है।प्रस्तावित आश्रय मंदिर में रहने वाले बुजुर्गों के उपचार-दवाई आदि की निशुल्क व्यवस्था का जिम्मा डॉ विनोद भंडारी (अरबिंदो हॉस्पिटल) ने ले लिया है।
मेरे पास पीथमपुर और खलघाट में नर्मदा किनारे इस प्रोजेक्ट के लिए पर्याप्त जमीन है।सोनू सूद को कह दिया है दोनों में से जहां की भी जमीन पसंद आए मैं देने को तैयार हूं। उन्होंने अपनी टीम को लगा दिया है।अगले पखवाड़े सोनू सूद इंदौर आएंगे और प्लानिंग को अंतिम स्वरूप देंगे।
इंदौर-बैतूल में मदद की है सूद ने
इस आश्रय मंदिर की योजना के पहले से सोनू इंदौर में 8 लोगों की डायलिसिस कराने के साथ ही दो बालिकाओं का एक निजी स्कूल में एडमिशन करवा चुके हैं।इन लोगों के साथ ही बैतूल के बच्चों द्वारा सड़क बनवाने के वीडियो की हकीकत सुनील अग्रवाल से जानने के बाद उन्होंने बैतूल में भी सड़क निर्माण करवाया है।
लुणावत ने दो स्थानों पर जमीन बताई, 100 फ्लैट की प्लानिंग
आश्रय मंदिर के लिए पत्रकार लुणावत ने दो स्थानों पर जो जमीन बताई है, उसे देखने और वीडियो कॉलिंग कर सोनू सूद को दिखाने के लिए उनके मित्र सुनील अग्रवाल जाएंगे।उनके मुताबिक आश्रय मंदिर की प्लानिंग में फिलहाल 100 फ्लैट (वन बीएचके) की प्लानिंग है। 10 हजार वर्गफुट में बनाई जाने वाली इस हाईपाइज बिल्डिंग के साथ बाकी जमीन पर ग्रीन जोन विकसित किया जाना है। इसमें बुजुर्गों के लिए कैरम, टेबल टेनिस आदि खेल के साथ ही सब्जियां उगाने के लिए भी जगह रहेगी।आश्रय मंदिर के संचालन के लिए गठित किए जाने वाले ट्रस्ट में इंदौर के दानदाता शामिल रहेंगे यह ट्रस्ट सोनू ने अपनी मां की स्मृति में जो ट्रस्ट गठित किया है उसके तहत कार्य करेगा।

admin