उमा भारती ने सुब्रमण्यम स्वामी को बताया अपना हीरो, क्‍यों है भाजपा परेशान

भोपाल। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की वरिष्‍ठ नेता उमा भारती अपने आक्रामक तेवर के लिए जानी जाती हैं। उन्‍होंने एक बार फिर तीखे तेवर दिखाए हैं। उमा ने मंगलवार सुबह कई ट्वीट किए और कहा कि सुब्रमण्यम स्वामी को मैंने अपना हीरो एवं आदर्श माना। जब मैंने अपने लेख में उन्हें अपना हीरो और आदर्श कहा तो बहुत लोग प्रसन्न हुए और कुछ लोग नाराज भी हुए। उन्होंने लिखा कि स्वामी भारत की राजनीति के सर्वाधिक बुद्घिमान, भारतीय अर्थ नीति की गहरी समझ वाले विद्वान हिंदू हैं। उमा ने यह भी कहा कि मेरे नेता अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी और राजमाता सिंधिया हैं।

इसके पहले सुब्रमण्यम स्वामी पेट्रोल के बढते दामों को लेकर केन्‍द्र की अपनी ही सरकार पर सवाल उठाए थे। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा था कि भगवान राम के भारत में पेट्रोल की कीमत 93 रुपये प्रति लीटर है तो सीता माता के नेपाल में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 53 रुपये और रावण के श्रीलंका में एक लीटर पेट्रोल की कीमत सिर्फ 51 रुपये है.

मालूम हो कि सोमवार को देश का बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेट्रोल पर 2.5 रुपये और डीजल पर 4 रुपये कृषि सेस लगाने का ऐलान किया था. हालांकि, सरकार ने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए कृषि सेस से कीमतों में बढ़ोतरी नहीं होगी. बता दें कि पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों की वजह से आम आदमी की जेब पर काफी बुरा असर पड़ रहा है.

भाजपा की प्रतिक्रिया
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि उमा भारती द्वारा सुब्रमण्यम स्वामी की तारीफ करने को भाजपा नेतृत्व की आलोचना कहना सर्वथा गलत है। उन्होंने स्वयं बजट की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का अभिनंदन किया है। बजट को समग्र विकास के लिए और भारत को प्रतिष्ठा देने वाला बताया है। उमा जी वरिष्ठ नेता हैं। उनके शेष निजी विचारों पर टिप्पणी करना मेरे अधिकार क्षेत्र से बाहर है एवं उचित भी नहीं है।

admin