टीएमसी के गद्दारों के साथ बंगाल जीतने का फॉर्मूला बना रही है बीजेपी: ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले सत्‍तारूढ़ टीएमसी के कई मंत्री और विधायक पाला बदलकर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो चुके हैं। मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने इन नेताओं के बहाने बीजेपी और नरेंद्र मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला है। ममता ने कहा- ‘लॉकडाउन के दौरान पूरे देश में कई प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई, लेकिन केंद्र सरकार ने उन्‍हें ट्रेन का किराया नहीं दिया। पर कुछ चोरों को विशेष विमान से दिल्‍ली ले जाने के लिए उन्‍होंने बहुत सारा पैसा खर्च किया।’
ममता का हाल ही में बीजेपी में शामिल होने वाले टीएमसी नेताओं राजीव बनर्जी, वैशाली डा‍लमिया, प्रबीर घोषाल, हावड़ा के पूर्व मेयर रथीन चक्रवर्ती और पार्थसारथी पर यह कटाक्ष किया है। बता दें कि अमित शाह की रैली रद्द हो जाने की वजह से इन नेताओं को चार्टर्ड फ्लाइट से कोलकाता से दिल्‍ली ले जाया गया था। दिल्‍ली में इन लोगों ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद बीजेपी की सदस्‍यता ग्रहण कर ली थी।
गुरुवार को कोलकाता में आयोजित रैली में ममता बनर्जी दलबदलुओं पर जमकर बरसीं। उन्‍होंने कहा कि बीजेपी टीएमसी के कुछ गद्दारों को साथ लेकर पश्चिम बंगाल जीतने का फॉर्मूला बना रही है। जो लोग बीजेपी में जा रहे हैं उन्हें याद रखना चाहिए कि वे (बीजेपी) दंगाई हैं। जो लोग वहां जा रहे हैं, वे अपनी संपत्ति और खुद को सुरक्षित रखने के लिए ऐसा कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने बहुत पैसा कमाया है।
ममता बनर्जी यहीं नहीं रुकीं। उन्‍होंने कहा कि ‘सोनार भारत’ को बर्बाद करने के बाद बीजेपी अब ‘सोनार बांग्ला’ की बात कर रही है। उन्‍होंने कहा कि बंगाल में तृणमूल कांग्रेस का विकल्प नहीं है। कोई भी पार्टी इसका स्थान नहीं ले सकती। बीजेपी दंगा चाहती है और हम शांति चाहते हैं। इसीलिए हमारा नारा है- ‘चाही न चाही न बीजेपी को चाही न। चाही न चाही न दंगा चाही न। चाही न चाही न लुटेरा चाही न। चाही न चाही न भ्रष्‍टाचार चाही न।’

admin