टूलकिट केस: शांतनु मुलुक को 10 दिन की अंतरिम जमानत

मुंबई। टूलकिट मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट की औरंगाबाद पीठ ने एक्टीविस्ट शांतनु मुलुक को 10 दिन की अंतरिम जमानत दे दी है। एक्टीविस्ट निकिता जैकब की ट्रांजिट अंतरिम जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है। निकिता जैकब ने भी टूलकिट को एडिट किया था। निकिता की अर्जी पर हाईकोर्ट बुधवार को फैसला सुनाएगी। फैसला आने तक दिल्ली पुलिस निकिता के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर करेगी।

बता दें, बॉम्बे हाईकोर्ट की वकील निकिता जैकब और शांतनु के खिलाफ दिल्ली की एक अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी किया है। इन पर किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी टूलकिट साझा करने का आरोप है। इस टूलकिट को एडिट करने और इसे सोशल मीडिया पर साझा करने के आरोप में पहले ही पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि को गिरफ्तार किया जा चुका है। निकिता ने गैर जमानती वारंट के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में ट्रांजिट जमानत याचिका दायर की है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि निकिता और शांतनु पर दस्तावेज तैयार करने और खालिस्तान समर्थक तत्वों के सीधे संपर्क में होने का आरोप है। दोनों टूलकिट मामले में वांछित हैं। दोनों की तलाश में पुलिस ने मुंबई और अन्य जगहों पर छापा भी मारा था।

किस पर क्या आरोप
दिशा रवि – टूलकिट के लिए वॉट्सएप ग्रुप बनाया
निकिता जैकब – शांतनु की बनाई टूलकिट को एडिट किया
शांतनु – टूलकिट को दूसरों के साथ शेयर किया

विवाद होने पर निकिता ने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर दिया था। दावा किया जा रहा है कि तब उसने अपने प्रोफाइल में खुद का परिचय बॉम्बे हाईकोर्ट की वकील, पर्यावरणविद और आम आदमी पार्टी (आप) से जुड़े होना दिया था। हालांकि, नए प्रोफाइल में उन्होंने आम आदमी पार्टी से अपने संबंध की बात हटा दी है। ट्विटर यूजर विजय पटेल ने दावा किया है कि निकिता ने 30 जनवरी, 2021 को सॉलिडेरिटी विद इंडियन फार्मर्स नामक डॉक्यूमेंट तैयार किया था। दावा है कि उसने इंस्टाग्राम पर न्यूज इनफ्यूज नाम से एक अकाउंट भी बना रखा है।

पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि की गिरफ्तार पर बवाल के बीच दिल्ली पुलिस ने सोमवार को आरोप लगाया कि दिशा ने दो अन्य संदिग्धों निकिता जैकब और शांतनु के साथ किसानों के प्रदर्शन से जुड़ा ‘टूलकिट’ तैयार किया था और इसे सोशल मीडिया पर साझा किया। पुलिस का दावा है कि दिशा ने ही टेलीग्राम एप के जरिये ‘टूलकिट’ पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग को भेजा था। दिशा को पुलिस ने शनिवार रात को बंगलूरू से गिरफ्तार किया था।

admin