एक्सिस बैंक के 15 हजार कर्मचारियों ने छोड़ी नौकरी

मुंबई

मैनेजमेंट के बदलने से कर्मियों को काम करने में आ रही थी परेशानियां

एक्सिस बैंक के 15 हजार कर्मचारियों ने पिछले कुछ महीनों में बैंक का साथ छोड़ दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैंक का मैनेजमेंट के बदलने से कर्मचारियों को काम करने में दिक्कतें आ रही थी. इसलिए मिड लेवल के एग्जीक्यूटिव ने बैंक की नौकरी छोड़ी है। नया मैनेजमेंट, बैंक की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए ब्रांच के ऑपरेशन में बदलाव कर रहा हैं। बता दें कि शिखा शर्मा के एमडी और सीईओ का पद छोड़ने के बाद 1 जनवरी 2019 से एक्सिस बैंक ने अमिताभ चौधरी को नया सीईओ और एमडी नियुक्त किया। उनका कार्यकाल तीन साल का है। अमिताभ चौधरी 2010 से एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस के सीईओ और एमडी भी रहे हैं।

बैंक तेजी से कर रहा नए लोगों की भर्तियां

अंग्रेजी समाचार एजेंसी की खबर के मुताबिक, पिछले कुछ महीने में कई वरिष्ठ लोगों ने बैंक का साथ छोड़ा है। इसके पीछे बैंक में हो रहे नए जमाने के बदलावों को बताया जा रहा है। बैंक का कहना है कि बैंक तेजी से नए लोगों को भर्ती कर रहा है। दरअसल बैंक के ऑपरेशंस में बड़ा बदलाव किया गया है। हालांकि, बैंक एक कर्मचारी ने बताया कि नए बदलावों के बाद कई लोगों रो उनके रोल को लेकर चिंताएं थी। वो नए बदलाव में असहज महसूस कर रहे थे।

एक्सिस बैंक इंश्योरेंस का बड़ा डिस्ट्रीब्यूटर

बैंक के एमडी सीईओ अमिताभ चौधरी का कहना है कि रेगुलेटरी मंजूरी के बाद इंश्योरेंस में कदम रखेंगे। एक्सिस बैंक इंश्योरेंस का बड़ा डिस्ट्रीब्यूटर है। इंश्योरेंस में ग्रोथ अच्छी है। रेगुलेटरी मंजूरी मिलने पर इंश्योरेंस में कदम रखेंगे। आरबीआई ने रेगुलेटरी बदलाव किए हैं। बैंकों को इंश्योरेंस में ज्यादा हिस्सेदारी की मंजूरी नहीं है। इसके लिए नई इंश्योरेंस कंपनी नहीं बनाएंगे बल्की किसी ट्रांजैक्शन की उम्मीद है। मौजूदा फ्रेमवर्क के तहत मौके ढूंढ रहे हैं। बैंक की अच्छी इंश्योरेंस कंपनी खरीदने पर नजर है।

अगले दो सालों में 30 हजार न्यू हायरिंग

चालू वित्त वर्ष में अब तक बैंक की नेट हायरिंग करीब 12800 है। बैंक का कहना है कि वह अगले दो सालों में करीब 30 हजार और लोगों को हायर करेगा। ऐक्सिस बैंक में फिलहाल छंटनी दर 19 फीसदी के करीब है जो औसतन 15 फीसदी होनी चाहिए। इस बैंक में 72 हजार कर्मचारी काम करते हैं। बैंक बहुत तेजी से ऑटोमेशन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को अपना रहा है।

admin