अटारी-वाघा सीमा से गुजरे 3 पाकिस्तानी मिले पॉजिटिव

अमृतसर

बॉर्डर पर तैनात स्टाफ में हड़कंप

पंजाब में भारत पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास तैनात तमाम कर्मचारियों के बीच दहशत की स्थितियां बनी हुई हैं। अटारी-वाघा सीमा पर तैनात स्टाफ के बीच टेंशन पाकिस्तान के तीन नागरिकों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद बढ़ी है।

बताया जा रहा है, इन तीनों नागरिकों ने अप्रैल के पहले हफ्ते में अटारी बॉर्डर क्रॉस किया था। इसके बाद लाहौर पहुंचने पर सभी की जांच की गई थी और यह लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे।

बीएसएफ के सूत्रों के मुताबिक, लाहौर में जांच के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए गए ये लोग एक 41 सदस्यीय दल का हिस्सा थे। पॉजिटिव मरीजों की जानकारी के बाद अटारी सीमा पर तैनात इमिग्रेशन और सीमा सुरक्षा बल के जवानों के बीच हड़कंप मच गया।

‘सीमा पर तैनात लोगों के लिए हों इंतजाम’ | ऐसे में अब इन सभी लोगों ने सरकार से अनुरोध किया है कि संक्रमण के खतरों को देखते हुए सीमा पर तैनात कर्मियों के लिए पर्याप्त संख्या पीपीआई किट और अन्य जरूरी सामान का इंतजाम किया जाए।

एन-95 मास्क और पीपीई किट नहीं

अटारी में रुरल हाउस फॉर्मासिस्ट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कमलजीत सिंह संधू का कहना है कि उनके पास पर्याप्त मात्रा में एन-95 मास्क और पीपीई किट मौजूद नहीं हैं। ऐसे में सीमा पर तैनात कर्मचारियों और सुरक्षाबलों के जवानों को भी कोरोना के संक्रमण काल में संक्रमित होने का डर बना हुआ है। संधू ने सरकार से अनुरोध करते हुए कहा है कि अटारी-वाघा सीमा की संवेदनशीलता को देखते हुए इस दिशा में बड़े फैसले लिए जाने चाहिए।

admin