अहमदाबाद में मिले 334 ‘सुपर स्प्रेडर्स’ तीन दिनों तक चलेगी स्क्रीनिंग

अहमदाबाद

कोरोना… 15 मई तक बंद रहेंगी सभी दुकानें

गुजरात के अहमदाबाद में अभी तक कोरोना वायरस के 334 ‘सुपर स्प्रेडर्स’ (ज्यादा लोगों में संक्रमण फैलाने वाले शख्स) पाए गए हैं। एक अधिकारी ने बताया कि यह एक मुख्य कारण है जिस वजह से यहां किराना और सब्जियों की दुकानों को 15 मई तक बंद करने का फैसला किया गया है।

जिले में कोरोना वायरस संबंधी निगरानी और समन्यवय स्थापित करने के लिए नियुक्त किए गए अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव गुप्ता ने कहा कि दो दिन में करीब 2000 संदिग्ध सुपर स्प्रेडर्स की स्क्रीनिंग की गई है और नगर पालिका ने सात मई से 15 मई तक यानी एक सप्ताह के लिए दूध और दवाओं को छोड़ कर बाकी सभी दुकानों को बंद रखने का निर्देश है। एक अधिकारी ने कहा कि उनका मानना है कि अहमदाबाद में करीब 14 हजार सुपर स्प्रेडर हो सकते हैं और अगले तीन दिनों में इन सब की स्क्रीनिंग कराने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही जिले के उपनगरों और ग्रामीण इलाकों में भी स्क्रीनिंग की गई है। अहमदाबाद नगर पालिका ने 20 अप्रैल से निगरानी कार्यक्रम के तहत ऐसे लोगों की पहचान करनी शुरू कर दी थी और अभी तक ऐसे संदिग्धों के 3,817 सैंपल लिए जा चुके हैं। अधिकारी ने बताया कि इन 3,817 सैंपल में से 334 की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बता दें कि शनिवार तक गुजरात में कोरोना वायरस के 7,797 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं वहीं इस जानलेवा महामारी से 472 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से अकेले अहमदाबाद में 5,540 मामले सामने आए हैं और 363 लोगों की मौत हुई है।

कौन हैं सुपर स्प्रेडर्स?

ये ऐसे लोग होते हैं जो बीमारी को ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं। ये सब्जी वाले, किराना स्टोर वाले, दूध वाले, पेट्रोल पंप कर्मी या कूड़ा जमा करने वाले हो सकते हैं। इनके संक्रमित होने और इनके द्वारा दूसरों तक संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा होता है।

admin