दो दिन में देश में तबलीगी जमात के 647 और सिर्फ दिल्ली में एक दिन में 129 लोग संक्रमित

नई दिल्ली

इंदौर में पाए गए 89 कोरोना पॉजिटिव में से 71 मुस्लिम समुदाय केे, यानी 80 फीसदी

तबलीगी जमात ने देश की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। पिछले दो दिनों में पूरे देश में जमात से जुड़े 647 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। हालांकि राज्य सरकारों के आंकड़े इससे अलग हैं। मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने निज़ामुद्दीन मरकज़ की तरफ इशारा करते हुए कहा कि देश में सिर्फ एक कार्यक्रम की वजह से मामले बढ़ गए हैं। लोगों को यह समझना होगा कि एक गलती की वजह से सारी कोशिशें फेल हो सकती हैं। हमारी एक गलती हमें बरसों पीछे धकेल सकती है। अभी तक देश में 2301 पॉजिटिव केस सामने आए हैं जबकि 56 लोगों की मौत हुई है। इनमें से 20 मौतें जमात से जुड़े लोगों की है।

दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना के 141 नए मामले सामने आए हैं जिनमें 129 तबलीगी जमात से जुड़े हैं। अग्रवाल ने कहा, “पिछले दो दिनों में जमात के सदस्यों की वजह से 14 राज्यों में कोरोना के 647 मरीज सामने आए हैं। पिछले 24 घंटों में हुई 12 मौतों में भी कई जमात के लोगों से जुड़ी है।” केंद्र सरकार ने जमात के 960 विदेशियों का वीजा रद्द कर दिया गया है।

देश में एक दिन में कोरोना के 336 नए मामले सामने आए है। इनमें आधे से ज्यादा मरकज़ से जुड़े हुए हैं। गुरुवार देर रात तक देशभर में कुल 485 नए मामलों की पुष्टि हुई थी। इनमें से 295 केस उन लोगों के थे, जिन्होंने निज़ामुद्दीन मरकज़ में हुए जलसे में शिरकत की थी। यानी करीब 65 प्रतिशत नए केसों का स्रोत तबलीगी जमात का जलसा है।

अश्लील हरकतें करने वाले जमातियों पर लगेगी रासुका : योगी

नई दिल्ली। निज़ामुद्दीन मरकज़ में शामिल जमात के लोगों द्वारा गाजियाबाद में मेडिकल स्टाफ से बदतमीजी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लिया है। योगी ने कहा दोषियों पर रासुका लगाई जाएगी। गुरुवार को गाजियाबाद के जिला एमएमजी अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर में जमातियों ने स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार किया। नर्सों की मौजूदगी में कपड़े उतारकर घूमते रहे और अश्लील गाने भी बजाते रहे। सीएम ने कहा है कि जमातियों को कानून का पालन करना सिखाया जाएगा। उन्होंने जमातियों की देखरेख के लिए महिलाओं के बजाय पुरुष स्टाफ को तैनात करने का निर्देश दिया है।

5 अप्रैल, रात 9 बजे अंधकार को चुनौती देना है : मोदी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को फिर देशवासियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने देशव्यापी लॉकडाउन के नौ दिन के दौरान लोगों के अनुशासन और सेवाभाव की तारीफ की। प्रधानमंत्री ने लोगों से एक विशेष अपील भी की। उन्होंने कहा कि इस रविवार यानी पांच अप्रैल को सब लोग घर की सभी लाइटें बंद करके, दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर नौ मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। उन्होंने कहा कि चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का अहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं। कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देता यह 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण होगा।

admin