कोचर की 78 करोड़ की संपत्ति जब्त

मुंबई.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व एमडी और सीईओ चंदा कोचर और उनके परिवार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए करोड़ों की प्रॉपर्टी जब्त कर ली है। ईडी ने कुल 78 करोड़ रुपए मूल्य की सं​पत्ति जब्त की है, इसमें कोचर का मुंबई स्थि​त फ्लैट और उनके पति की कुछ प्रॉपर्टीज शामिल हैं। जांच एजेंसी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में यह कार्रवाई की है।

ईडी चंदा कोचर, उनके पति दीपक कोचर और अन्य के खिलाफ वीडियोकॉन समूह को लोन देने के मामले में कथित मनी लॉन्ड्रिंग और अनियमितताओं की जांच कर रहा है। लोन देने में हेराफेरी के मामले में कोचर को अक्टूबर 2018 में इस्तीफा देना पड़ा था। आरोप है कि आईसीआईसीआई बैंक से लोन लेने वाली वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज ने कोचर के पति की कंपनी में निवेश किया। इसमें अनियमितता और गड़बड़ी की शिकायत सामने आई। कोचर ने अपने खिलाफ बैंक से जारी बर्खास्तगी के लेटर को बॉम्बे हाईकोर्ट में चुनौती दी है।

उन्होंने हाईकोर्ट से उस लेटर को वैध घोषित करने की मांग की है, जिसमें उन्होंने अक्टूबर 2018 में जल्दी रिटायरमेंट की घोषणा की थी और बैंक ने स्वीकार कर लिया था। ​जबकि चंदा कोचर के खिलाफ जारी जांच को देखते हुए पिछले साल फरवरी में बैंक ने उन्हें बर्खास्तगी का लेटर भेजा था।

ये है पूरा मामला

यह पूरा मामला वीडियोकॉन ग्रुप को 2012 में आईसीआईसीआई बैंक से मिले 3,250 करोड़ रुपए के लोन से जुड़ा है। यह लोन कुल 40 हजार करोड़ रुपए का एक हिस्सा था जिसे वीडियोकॉन ग्रुप ने एसबीआई के नेतृत्व में 20 बैंकों से लिया था। आरोप है कि वीडियोकॉन ग्रुप के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत ने 2010 में 64 करोड़ एनआरपीएल को दिए थे।

admin