अमित शाह की तरफ से रतनलाल की पत्नी के लिए एक ख़त

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। एक पत्र लिखा गया है। रतनलाल की पत्नी के नाम। पत्र लिखने वाले गृहमंत्री जी हैं। अमित शाह ने सोमवार को दिल्ली में हुई हिंसा में मारे गये दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की पत्नी को मंगलवार को पत्र लिखकर अपना शोक व्यक्त किया है।

रतन लाल की पत्नी पूनम देवी को लिखे पत्र में शाह ने कहा है, “आपके बहादुर पति एक ज़िम्मेदार पुलिसकर्मी थे, जिन्होंने गंभीर चुनौतियों का सामना किया। उन्होंने अपने देश की सेवा करते हुए सबसे बड़ा बलिदान दिया है। मैं ईश्वर से आपको इस कष्ट को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।”

उत्तर पूर्व दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान फैली हिंसा में हेड कांस्टेबल रतन लाल समेत लगभग 20 लोग मारे जा चुके हैं तथा 150 से ज़्यादा लोग घायल हो चुके हैं। प्रदर्शनकारियों ने पिछले तीन दिन में घरों, दुकानों, वाहनों और एक पेट्रोल पंप को आग के हवाले कर दिया है। उन्होंने सुरक्षा बलों पर पथराव किया। राजस्थान के सीकर जिले में फतेहपुर-शेखावटी तहसील के तेहावली गांव के रहने वाले रतन लाल भी इस हिंसा की भेंट चढ़ गये।

गोकुलपुरी में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई। हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल सहायक पुलिस आयुक्त के कार्यालय से जुड़े हुए थे। वो मूल रूप से राजस्थान के रहने वाले थे। परिवार के साथ बुराड़ी के अमृत विहार में रहते थे। उनके परिवार में पत्नी पूनम, दो बेटी और एक 9 साल का बेटा है। तीनों बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं।

admin