आलिया का ‘गंगूबाई’ वाला 6 करोड़ का कोठा अब तोड़ा जा रहा

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

आलिया भट्ट को लेकर संजय लीला भंसाली ‘इंशाल्लाह’ नाम की फिल्म बना रहे थे लेकिन नहीं बना पाए कुछ दिक्कतों के कारण फ़िल्म नहीं बनी तभी संजय लीला ने इसी साल जनवरी में एक नए फिल्म का अनाउंसमेंट किया। ये वही फ़िल्म थी जो एस. हुसैन. ज़ैदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ में छपी एक सेक्स वर्कर की कहानी से प्रेरित थी।

सेट तैयार हुआ डायरेक्टर भी रेडी लेकिन अचानक लॉकडाउन की घोषणा हो गयी। अब गंगू बाई के कोठे से लेकर पूरा का पूरा कमाठीपुरा फिल्मसिटी में बनकर तैयार था लेकिन लॉकडाउन के बाद अब इस सेट पर भी ताला लग गया है।

इस कारण तोड़ना पड़ रहा गंगूबाई का सेट

दरअसल ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ लॉकडाउन से पहले मुंबई में शूट होनी थी। जिसके लिए एक बड़ा सेट लगवाया गया था। लेकिन हालिया स्थिति को देखते हुए ये कहना मुश्किल है कि फिल्मों की शूटिंग कब से शुरू हो पाएगी। इसी वजह से भंसाली ने गंगूबाई काठियावाड़ी के सेट को तोड़ने का फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि इस सेट की कीमत 6 करोड़ रुपये से ज्यादा की है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, संजय लीला भंसाली ने प्रोडेक्शन टीम को सेट तोड़ने के लिए कहा है। सेट में 1960 के कमाठीपुरा को दर्शाया गया था, लेकिन अब इसे तोड़ा जा रहा है क्योंकि सेट का मेंटेनेंस ज्यादा है।

संजय लीला भंसाली ने सेट के मेंटेनेंस का भी भुगतान कर दिया था ये सोच कर कि लॉकडाउन महीने भर के भीतर खत्म हो जाएगा लेकिन जब ऐसा संभव होता नहीं दिखा तब ये निश्चित किया गया कि सेट को दोबारा से बनाना ज्यादा सस्ता पड़ेगा बजाय उसका डेली का किराया देने और मेंटेनेंस देने के।

गंगा हरजीवनदास से बन गईं गंगूबाई

गंगूबाई काठियावाड़ी’ की कहानी एक सोलह साल की लड़की की है, जो मुंबई के रेड लाइट एरिया में आई। एक डॉन के घर में ठाठ से घुसी। उसे राखी बांध आई और रेड लाइट एरिया में काम करने वाली सेक्स वर्कर्स के अधिकारों के लिए प्रधानमंत्री तक के पास पहुंच गई। ये वो गंगूबाई थीं जिन्होंने एक समय पर कोठे वालियों के दिल पर राज किया करती थीं इनकी फ़ोटो हर कोठे वाली के पास आसानी से मिल जाता था।

माना जाता है कि गंगूबाई, गुजरात के काठियावाड़ की रहने वाली थीं, इसीलिए उन्हें गंगूबाई काठियावाड़ी कहा जाता था। उनका असली नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था। गंगूबाई को अपने पिता के अकाउंटेंट से प्यार हो गया था और वे उस लड़के संग शादी कर मुंबई भाग आई थीं। लेकिन मुंबई आने के बाद उनको धोखा मिला और उसके साथ कोठे का दरवाजा। जिसके बाद गंगू कोठेवालियों के लिए क्रांति किया और कुछ नियम बनाये। जिसके तहत अगर किसी भी वेश्या को अगर वेश्यालय छोड़ कर जाना हो तो वो पूरी तरीके से आज़ाद थीं।

फिल्म के बारे में

पिछले साल दिसंबर ने आलिया ने इस फिल्म की शूटिंग शुरू की थी। इस फिल्म में उनके साथ डी 3 फेम शांतनु माहेश्वरी नजर आने वाले हैं। ये फिल्म 11 सितंबर, 2020 को रिलीज होने थी। लेकिन अब कोरोना वायरस के चलते फिल्म की शूटिंग ठप पड़ी है। ऐसे में देखना होगा कि फिल्म तय डेट पर रिलीज हो पाती है या नहीं।

admin