गिरफ्तार युवक ने कहा धर्म पूछकर ले गए ताहिर के घर, कर दी आईबी अफसर की हत्या

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। दिल्ली हिंसा के दौरान एक लाश नाली में बुरी तरह से पड़ी मिली थी। वो लाश किसी और की नहीं अंकित शर्मा की थी। अब इस हत्या के आरोपी को गिरफ्तार किया गया है साथ ही ऐसी बातें सामने आयी हैं कि सुनने के बाद दिमाग सुन्न पड़ जाये।

दरअसल दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने चांद बाग में आईबी कर्मी अंकित शर्मा की हत्या के एक आरोपी सलमान को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने अंकित शर्मा के सारे कपड़े फाड़ दिए थे और चाकू व डंडों से हमला करते हुए आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के घर में ले गए थे। स्पेशल सेल सलमान से पूछताछ कर रही है।

अंकित शर्मा के लापता होने के एक दिन बाद 27 फरवरी को उनका शव उत्तर-पूर्वी दिल्ली के चांदबाग में उनके घर के नजदीक के एक नाले से मिला था। इससे पहले पुलिस ने इस मामले में आम आदमी पार्टी के निलंबित निगम पार्षद ताहिर हुसैन को गिरफ्तार किया था।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के मामले की क्राइम ब्रांच ने बुधवार को इरशाद, आबिद और शाहदाब को गिरफ्तार किया था। ये सभी मुस्तफाबाद के रहने वाले हैं। गिरफ्तार किए गए ये तीनों लोग 24 फरवरी को आईबी ऑफिसर अंकित शर्मा हत्याकांड के दौरान ‘आप’ के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के साथ थे और उनके बहुत करीबी बताए जाते हैं।

दिल्ली पुलिस का दावा है कि अंकित की हत्या से पहले उन्हें निर्वस्त्र करके धर्म को पुख्ता किया गया था फिर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर हत्या की गई। पांच मिनट के अंदर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया था। बताया जा रहा है कि दंगाईयों ने अंकित के साथ दो अन्य हिंदू युवकों को पकड़ लिया था।

दोनों किसी तरह उनके चंगुल से छुड़ाकर भागने में कामयाब हो गए थे। अंकित शर्मा के अकेले पकड़ा जाने से दंगाईयों ने बेरहमी से उनकी हत्या कर शव को पहले घसीटा था फिर डंडे से उठाकर शव को गंदे नाले में फेंकने की कोशिश की थी। डंडे से नहीं उठने पर कुछ लोगों ने मिलकर शव को लोहे के तार की जाली से ऊपर से शव को नाले में फेंक दिया था।

आरोपी सलमान ने बताया कि 24 फरवरी को वाट्सऐप ग्रुप के जरिए जानकारी दी गयी कि बस से खजूरी खास पहुंचो, फिर वे लोग गलियों से होते हुए चांदबाग में ताहिर हुसैन के घर पहुंचे। बताया जा रहा है कि अगले दिन 25 फरवरी को दंगे के दौरान सलमान और इसके साथ करीब 6 लोगों ने बाहर से अंकित को खींचकर ताहिर के घर में ले आए। फिर, चाकुओं से हमला कर मौत के घाट उतार दिया।

बताया जा रहा है कि सलमान की अंकित से कोई दुश्मनी नहीं थी। ये सब दंगे में ही की गयी हत्या है। सलमान ने हत्या के बाद दो कॉल किए उसके कॉल डिटेल से पता चला है उसने अपने भाई और भाभी को कॉल करके कहा कि दंगे में उससे एक लड़के की हत्या हुई है। वहीं, अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बताया गया है कि उसे कई बार चाकू घोपा गया।

admin