सीतापुर जेल में आजम मच्छरों से परेशान, पत्नी को कमर दर्द ने सताया

लखनऊ

फर्जी दस्तावेज के मामले में सपा नेता आजम खान परिवार सहित यूपी की जेल में बंद

फर्जी दस्तावेज के मामले में समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान उत्तर प्रदेश की सीतापुर जिला जेल में बंद हैं। उनकी पत्नी तंजीन फातिमा और छोटे बेटे अब्दुल्ला आजम भी इसी जेल में हैं। रामपुर से शिफ्ट होने के बाद गुरुवार सुबह जेल लाए गए आजम और उनके परिवार को जेल मैनुअल के हिसाब से ही सुविधाएं दी जा रही हैं। सीतापुर जेल के सुपरिंटेंडेंट ने बताया कि जेल में आजम परिवार का पहला दिन सामान्य तरीके से गुजरा।

हालांकि आजम के बड़े बेटे अदीब और बहू सिदरा सीतापुर जेल में उनसे मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि परिवार को सीतापुर जेल में रात काटना मुश्किल हो गया। अपने सास-ससुर से मिलने के बाद सिदरा ने कहा कि दोनों को काफी तकलीफ हुईं। जेल में काफी मच्छर हैं। यही नहीं, वालदा (सास) की कमर में भी काफी तकलीफ है। उनका पिछले साल ही ऑपरेशन हुआ था।

वह डायबिटीज, ब्लडप्रेशर की भी मरीज हैं। उन्होंने कहा कि मैं चाहती हूं कि दोनों का ध्यान रखा जाए। उधर, सीतापुर जेल अधीक्षक डीसी मिश्रा ने कहा, ‘पहला दिन सामान्य रहा। चूंकि पॉलिटिकल लोग हैं। मैडम (तंजीन फातिमा) भी सांसद हैं। इसलिए बाहर थोड़ा हो-हल्ला हुआ। लेकिन अंदर सब कुछ सामान्य और शांत है। उन्होंने खाने में रोटी, दाल, सब्जी ली।’

बेटे की विधानसभा सदस्यता रद्द

इस बीच, अब्दुल्ला आजम की विधानसभा सभा सदस्यता रद्द कर दी गई है। चुनाव के दौरान गलत दस्तावेज मुहैया करवाने के चलते उनकी सदस्यता रद्द की गई है। विधानसभा सचिवालय ने गुरुवार को ये आदेश जारी किया। अब्दुल्ला रामपुर की स्वार टांडा सीट से विधायक थे। जेल अधीक्षक डीसी मिश्रा ने कहा, ‘हमको भी उम्मीद नहीं थी वे (आजम खान) इतने सहज हैं। बहुत सुलझे हुए आदमी हैं। जेल में रहना है आराम से बिता लेंगे। सामान्य प्रक्रिया के तहत विशेष सुरक्षा में आजम खान और अब्दुल्ला आजम एक साथ रखे गए हैं।’ आजम की पत्नी तंजीन फातिमा को डायबीटीज का इलाज मुहैया कराने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘जो मेडिकल सुविधा उपलब्ध है, उन्हें मुहैया कराई जा रही है। प्रॉपर चेकअप किया गया। बाहर से फिजिशन को भी बुलाया गया।’ जेल परिसर के आसपास कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं।

admin