Tokyo Olympics: बजरंग पूनिया सेमीफाइनल में पहुंचे, ईरान के पहलवान को किया चारों खाने चित

Tokyo Olympics: बजरंग पूनिया सेमीफाइनल में पहुंचे, ईरान के पहलवान को किया चारों खाने चित

टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए आज यानी शुक्रवार का दिन निराशाजनक रहा। महिला हॉकी टीम को ब्रिटेन के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही उसका ओलंपिक में पदक जीतने का सपना अधूरा रह गया। वहीं, महिलाओं की फ्रीस्टाइल 50 किग्रा में सीमा बिस्ला हार गईं। जबकि पहलवान बजरंग पूनिया ने 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग के सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। वह पदक के दावेदार हैं। उधर, भारत के गुरप्रीत सिंह ओलंपिक में पुरुषों की 50 किलोमीटर पैदल चाल पूरी नहीं कर सके और गर्मी तथा उमस के कारण ऐंठन की वजह से नाम वाापिस ले लिया। बता दें कि भारत की झोली में अब तक पांच पदक आ चुके हैं। यहां पढ़ें पूरा अपडेट्स

पहले दौर में ईरान के पहलवान ने एक अंक हासिल करते हुए बजरंग पर 1-0 की बढ़त बना ली है। वहीं, बजरंग ने दूसरे दौर में शानदार वापसी करते हुए दो अंक हासिल कर 2-1 की बढ़त बना ली और मैच जीत लिया। इसके साथ ही वह सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई। फाइनल में पहुंचने के लिए उनकी भिड़ंत अजरबैजान के अलीयेव हाजी से होगी।

पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किग्रा बजरंग पूनिया ने किर्गिस्तान के पहलवान अरनाजर अकमातालिव को हराकर क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया। बता दें कि शुरुआती बढ़त के आधार पर बजरंग ने जीत दर्ज की। अब उनका मुकाबा ईरान के पहलवान घियासी चेका मुर्तजा से होगा। बजरंग पूनिया ने पहले दौर में शानदार शुरुआत की। उसने 1-0 से बढ़त बनाई। फिर किर्गिस्तान के पहलवान ने एक अंक हासिल कर स्कोर को 1-1 से बराबर कर दिया। पूनिया ने फिर दो अंक हासिल करते हुए किर्गिस्तान के पहलवान पर 3-1 की बढ़त बना ली। वहीं, दूसरे दौर में किर्गिस्तान के पहलवान अरनाजर अकमातालिव एक के बाद एक अंक हासिल करते हुए स्कोर को 3-3 से बराबर कर दिया। मगर शुरुआती बढ़त के आधार पर बजरंग की जीत हुई।

बजरंग से देश को पदक की आस है। साल 2019 में बजरंग ने विश्व चैंपियनशिप के 65 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा में दूसरी बार सिल्वर मेडल जीता और टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया। वह 65 किग्रा फ्री-स्टाइल में उनकी वर्ल्ड रैंकिंग शीर्ष पर है। बता दें कि इसी साल मार्च में  बजरंग ने रोम में माटेओ पेलिकोन रैंकिंग सीरीज में वापसी करते हुए मंगोलिया के तुल्गा तुमुर ओचिर को हराकर स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने कुश्ती के 65 किग्रा डिवीजन में विश्व नंबर 1 स्थान हासिल किया था।

 

admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *