उपचुनाव से पहले मध्यप्रदेश में अब इस विधायक ने अपनी विधायकी के साथ ही कांग्रेस पार्टी छोड़ी

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

राजस्थान में चल रहे राजनीतिक संकट के बीच प्रदेश में कांग्रेस को उपचुनावों से ठीक पहले एक और बड़ा झटका लगा है।

अब खबर आ रही है कि कांग्रेस की एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है की कांग्रेस के 2 और विधायक भाजपा में शामिल हो सकते है।

कांग्रेस विधायकों की संख्या घटकर 90 पहुंच गई है

नेपानगर से कांग्रेस विधायक सुमित्रा देवी कासडेकर ने विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है। एक सप्ताह के अंदर ही कांग्रेस को यह दूसरा झटका लगा है। माना जा रहा है की वह जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकती है।

कांग्रेस विधायक सुमित्रा कासडेकर के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के विधायकों की संख्या घटकर 90 पहुंच गई है। अब राज्य की लगभग 26 सीटें खाली हो गई है।

बीजेपी का दावा 10 के करीब कांग्रेस विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं

इससे पहले बीते रविवार को बड़ा मलहरा सीट से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी ने भी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था और भाजपा में शामिल हो गए थे। भाजपा ने लोधी को पार्टी में शामिल होने के छह घंटे के अंदर नागरिक आपूर्ति निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया था। उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा भी दिया गया है।

सियासी गलियारों में चर्चा है कि कांग्रेस के कई और विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं। पिछले दिनों एक बीजेपी नेता ने दावा किया था कि 10 के करीब कांग्रेस विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं। इसके बाद कमलनाथ ने भोपाल बुलाकर कुछ विधायकों से मुलाकात भी की थी।

कोरोना के कारण पांच दिवसीय सत्र स्थगित

मध्य प्रदेश विधानसभा का 20 जुलाई से शुरू होने वाला पांच दिवसीय सत्र प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के कारण स्थगित कर दिया गया है। यह सत्र 20 जुलाई से 24 जुलाई तक होना था, जिसमें बजट पास करने के साथ-साथ महत्वपूर्ण शासकीय विधि विषयक एवं वित्तीय कार्य संपादित किये जाने थे।

विधानसभा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश विधानसभा के अस्थाई अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा की अध्यक्ष्ता में शुक्रवार को यहां सम्पन्न हुई सर्वदलीय बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया।

admin