भारत बायोटेक की कोवैक्सीन 81 फीसदी तक असरदार

नई दिल्ली। भारत बायोटेक ने अपनी कोरोना वायरस से बचाव के लिए तैयार कोवैक्सीन के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजों की घोषणा की है। कंपनी के अनुसार कोरोना से बचाव में कोवैक्सीन 81 प्रतिशत तक प्रभावी है। आईसीएमआर के साथ भारत बायोटेक ने मिलकर तीसरे चरण का ट्रायल किया था जिसमें कुल 25,800 लोगों को शामिल किया गया था। 

बुधवार को भारत बायोटेक ने नतीजे जारी करते हुए बताया कि कोरोना से बचाव में कोवैक्सीन 81 प्रतिशत तक प्रभावी है। कोवैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव ने बताया कि कोवैक्सीन पूरी तरह भारत में निर्मित कोरोना संक्रमण से बचाव की सफल वैक्सीन है। आठ महीने के परिश्रम से तैयार वैक्सीन आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करती है और वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए मजबूत हथियार की तौर पर सभी के सामने है।  बता दें कि देश में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड कोरोना से बचाव के लिए लोगों को दी जा रही है। (हि.स.)

admin