कप्तान हरमनप्रीत आठ दिन के आराम से चिंतित

मेलबर्न

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खिताबी मुकाबला आज, दोपहर 2 बजे शुरू होगा मैच, ओपनिंग मैच में मेजबान को 17 रन से हराया था

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रविवार को होने वाले आईसीसी महिला टी20 विश्व कप फाइनल से पहले आठ दिन के विश्राम के कारण भारत की तैयारियां प्रभावित हुई हैं, लेकिन कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा कि उनकी टीम मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में रेकॉर्ड दर्शकों के सामने बेहतर प्रदर्शन करने के प्रति प्रतिबद्ध है। भारत ग्रुप चरण में अजेय रहने के कारण पहली बार टी20 विश्व कप फाइनल में पहुंचा है। इंग्लैंड के खिलाफ उसका सेमीफाइनल मैच बारिश से धुल गया था।

भारत ने अपने आखिरी मैच में शनिवार को श्रीलंका को हराया था। सेमीफाइनल बारिश से धुलने का मतलब है कि भारतीय टीम पिछले आठ दिन से नहीं खेली है और हरमनप्रीत ने स्वीकार किया कि उनकी टीम खेलने के लिए बेताब है। हरमनप्रीत ने मैच की पूर्व संध्या पर शनिवार को कहा, ‘हमने बाहर बहुत कम अभ्यास किया और हमें इंग्लैंड के खिलाफ महत्वपूर्ण मैच में खेलने का मौका भी नहीं मिला।’ उन्होंने कहा, ‘हम सभी ने इस बीच इंडोर अभ्यास किया, लेकिन इससे आपका पूरा आत्मविश्वास नहीं बढ़ता क्योंकि विकेट पूरी तरह से भिन्न है। लेकिन टीम में हर कोई अच्छी लय में है और सभी जानते हैं कि वे टीम के लिए क्या कर सकते हैं।’ भारत ने टूर्नामेंट के ओपनिंग मैच में ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया था, लेकिन हरमनप्रीत ने कहा कि यह दोनों टीमों के लिए नई शुरुआत होगी। उन्होंने कहा, ‘हमें आराम का भी मौका मिला क्योंकि जब आप लंबे समय से खेल रहे होते हैं तो आपको विश्राम की जरूरत पड़ती है। कोई भी आराम नहीं करना चाहता। हर कोई खेलने को बेताब है। मैदान पर प्रत्येक परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है।’

फाइनल मैच के 85 हजार से अधिक टिकट बिके

हरमनप्रीत ने कहा, ‘हमें एक बात दिमाग में रखनी होगी कि रविवार नया दिन होगा और हमें नए सिरे से शुरुआत करनी होगी। हमें पहली गेंद से शुरुआत करनी होगी। लीग मैचों में हमने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। दोनों टीमें दबाव में हैं और दोनों खिताब जीतने में सक्षम हैं।’ फाइनल के 85 हजार से अधिक टिकट बिक चुके हैं और हरमनप्रीत ने कहा कि टीम इस बड़े मंच का लुत्फ उठाएगी और सकारात्मक क्रिकेट खेलेगी। लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ 2017 विश्व कप फाइनल में खेलने वाली हरमनप्रीत ने कहा, ‘यह शानदार अहसास है। पहली बार हम 90 हजार दर्शकों के सामने खेलेंगे और हम इसको सकारात्मक तौर पर ले रहे हैं।’

ऑस्ट्रेलिया चार बार जीत चुका है टी-20 वर्ल्डकप

अब तक 6 बार महिला टी-20 वर्ल्ड कप हो चुके हैं। यह 7वां टूर्नामेंट है। इससे पहले भारत एक बार भी फाइनल में नहीं पहुंचा था, जबकि ऑस्ट्रेलिया सबसे ज्यादा 4 बार यह कप जीत चुका है। भारत 3 बार (2009, 2010, 2018) में सेमीफाइनल में पहुंचा। पिछली बार उसे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों हार मिली थी।

बड़ा सवाल… क्या शेफाली को रोक पाएगी मेजबान टीम?

इंग्लैंड की सलामी बल्लेबाज डैनी व्हाइट ने कहा कि भारत की आक्रामक बल्लेबाज शेफाली वर्मा को फाइनल में रोकने के लिए गत चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को दिमागी रूप से खेलना होगा। सोलह साल की शेफाली ने 161 की शानदार स्ट्राइक रेट से टूर्नामेंट में 161 रन बनाने के साथ भारत को शानदार शुरुआत दिलाई है। व्हाइट ने कहा, ‘सब को पता है उसकी कमजोरी क्या है और शेफाली को भी यह पता है। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले उसके खिलाफ उस तरह की गेंदबाजी की है। आपको उसके खिलाफ दिमागी खेल खेलना होगा जिससे उसकी कमजोरी उजागर हो जाए।’ व्हाइट ने 2019 में महिला टी20 चैलेंज में इस युवा खिलाड़ी के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया था। डैनी व्हाइट ने आगे कहा, ‘जब वह विफल होती है तो वह जरूरत से ज्यादा भावुक हो जाती है। मैंने शेफाली समझाया कि वह ज्यादा तनाव ना ले यह सिर्फ क्रिकेट है।’

admin