चीन ने अमेरिकी जासूसी प्लेन को धमकाया गुस्साए यूएस ने भेज दिया बमवर्षक विमान

पेइचिंग

साउथ चायना सी में उड़ान भर रहा अमेरिकी विमान चीनी वायुक्षेत्र के नजदीक पहुंच गया था, जिसके बाद चीनी नेवल एयरफोर्स ने विमान को खदेड़ दिया

साउथ चाइना सी में अमेरिका और चीन के बीच जारी विवाद अब और गहराता दिखाई दे रहा है। ताइवान के आसपास उड़ान भर रहे एक अमेरिकी प्लेन को चीन ने धमकी देकर दूर खदेड़ दिया। इसके बाद तमतमाए अमेरिका ने इस इलाके में अपनी स्ट्रैटजिक बॉम्बर एयरक्राफ्ट की गश्त बढ़ा दी। रूसी मीडिया स्पुतनिक के अनुसार, गुरुवार को साउथ चाइना सी में उड़ान भर रहा एक अमेरिकी विमान चीनी वायुक्षेत्र के नजदीक पहुंच गया। जिसके बाद चीनी नेवल एयर फोर्स ने अमेरिकी विमान को वायरलेस के जरिए चेतावनी देकर दूर खदेड़ दिया। इस बातचीत का ऑडियो साउथ चाइना सी इलाके की हवाई गतिविधियों पर नजर रखने वाली एजेंसी साउथ चाइना सी प्रोबिंग इनिशिएटिव ने जारी किया है।

इस इलाके में सक्रिय एक रेडियो ऑपरेटर ने अमेरिका और चीन के बीच इस एक्सचेंज को रिकॉर्ड कर लिया। अमेरिकी विमान को चेतावनी देते हुए चीन ने वायरलेस मैसेज में कहा कि “यह चाइना नेवल एयर फोर्स ऑन गार्ड है, आप चीनी एयर डोमेन से संपर्क कर रहे हैं, आप अपना रास्ता तुरंत बदलें नहीं तो आपको रोक दिया जाएगा।

अमेरिका ने गश्त के लिए बी-1 स्ट्रैटजिक बॉम्बर भेजा

इस घटना के बाद तमतमाए अमेरिका ने प्रशांत महासागर के गुआम नेवल बेस पर तैनात बी-1 स्ट्रैटजिक बॉम्बर को इस इलाके में गश्त के लिए भेज दिया। इस विमान ने यूएसएस रोनाल्ड रीगन एयरक्राफ्ट कैरियर के साथ मिलकर चीन के नजदीक फिलीपीन सागर और साउथ चाइना सी में गश्त लगाई। इस विमान के साथ अमेरिका का पूरा जंगी जहाजों का काफिला उड़ रहा था।

और गहरा सकता है तनाव

इस इलाके में पिछले एक महीने से अमेरिकी विमान लगातार गश्त लगा रहे हैं। जिसमें टोही, बॉम्बर और इंटरसेप्टर एयरक्राफ्ट शामिल हैं। ये विमान अक्सर ताइवान के पास से होकर गुजरते हैं। कई बार ये विमान ईंधन के लिए ताइवान में लैंड भी करते हैं। वहीं, चीन बार-बार इसके लिए अमेरिका और ताइवान को चेतावनी दे रहा है। चीन और अमेरिका के बीच हालिया घटनाक्रम से तनाव और गहराने के आसार दिखाई दे रहे हैं।

admin