साउथ दिल्ली में करीबी के घर क्वारंटाइन हैं मौलाना पुलिस ने तेज की तलाश

नई दिल्ली

मरकज़ का गुनहगार

निजामुद्दीन मरकज से तबलीगी जमात के लोगों को निकालने के बाद से एक सवाल सबके मन में है कि सबको वहां जुटाने वाले मौलान साद कहां हैं। अब उनके ठिकाने का पता चल गया है। निजामुद्दीन मरकज के प्रमुख मौलाना मोहम्मद साद कांधलवी, दक्षिण पूर्वी दिल्ली में अपने एक करीबी सहयोगी के निवास पर क्वारंटाइन हैं।

यह जानकारी सूत्रों से मिली है। साद सरकार की मनाही के बावजूद तबलीगी जमात का कार्यक्रम आयोजित करने के बाद विवादों में बना हुआ है। जानकारी के मुताबिक, मौलाना साद ज्यादातर वक्त मरकज पर या कांधला स्थित अपने पैतृक घर में रहता है। मरकज प्रमुख इससे पहले भी तबलीगी जमात के विभाजन के कारण विवादों में रहा है। उसके वकील का कहना है कि दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा (क्राइम ब्रांच) ने सीआरपीसी की धारा-91 के तहत मरकज प्रमुख को दूसरा नोटिस जारी किया, लेकिन उनकी व्यक्तिगत उपस्थिति की मांग नहीं की।

तबलीगी जमात पर बड़ा एक्शन, म्यांमार के 8 नागरिकों पर एफआईआर दर्ज

महाराष्ट्र पुलिस ने म्यांमार के 8 नागरिकों के खिलाफ क्वारंटीन के नियमों का कथित तौर पर उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज की है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन सभी नागरिकों ने स्थानीय पुलिस को सूचित किए बिना महाराष्ट्र की एक मस्जिद में रहने के लिए एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। ये सभी तबलीगी जमात के सदस्य हैं। अधिकारी ने बुधवार को बताया कि ये लोग पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात द्वारा आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में शामिल
नहीं हुए थे, जो देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मुख्य केंद्र के तौर पर उभरा है।

वकील बोला, जांच में सहयोग करेंगे

मरकज के मुख्य वकील फुजैल अहमद अयूबी ने कहा, मरकज ने पुलिस अधिकारियों द्वारा उठाए गए सभी कदमों के लिए अपना सहयोग दिया है। उन्होंने कहा कि मरकज की तरफ से जांच में पूर्ण सहयोग किया जाएगा।

admin