प्रधानमंत्री के वैक्सीन लगवाने को कांग्रेस ने चुनावी राजनीति करार दिया

नई दिल्ली । देश में आज (सोमवार) से कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे दौर की शुरुआत हुई है। ऐसे में आज का पहला टीका प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लगवाया है। कोराना वैक्सीन को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार हमला बोल रही कांग्रेस पार्टी ने अब प्रधानमंत्री मोदी द्वारा वैक्सीन लगवाने पर भी सवाल खड़े किए हैं।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री द्वारा वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में वैक्सीन लगवाने को चुनावी राजनीति करार दिया है। उन्होंने सवाल किया कि पीएम मोदी ने पहले वैक्सीन क्यों नहीं लगवाई? अब जब वैज्ञानिकों ने वैक्सीन को सुरक्षित बताया है तब उन्होंने वैक्सीन लगवाई है।

अधीर रंजन ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री का वैक्सीन लगवाना भी उनकी चुनावी रणनीति का हिस्सा है। वो वैक्सीन लगवाने जाते हैं तो असम का गमछा गले में डाले रहते हैं। फिर वैक्सीन लगाने वाली नर्स केरल और पुडुचेरी की होती हैं और उनके बारे में बाकायदा प्रचार भी किया जा रहा है। यह सिर्फ इसलिए है क्योंकि इन तीनों राज्यों में चुनाव होने हैं।

उन्होंने तंज सकते हुए कहा कि ‘अब जब तीन राज्य कवर कर ही लिया था तो बंगाल की गीतांजलि भी हाथ में ले लेते तो सब (चारों राज्य) पूरे हो जाते।’ स्वदेशी वैक्सीन पर प्रश्न उठाने को लेकर कांग्रेस नेता ने कहा कि स्वदेशी वैक्सीन को बिना तीसरे चरण के ट्रायल के ही लोगों को लगाने के लिए कहने को लेकर वैज्ञानिकों ने सवाल खड़े किए थे जिसके बाद कांग्रेस ने विशेषज्ञों की बातों पर सरकार का ध्यान खींचा था।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार सुबह 6 बजकर 25 मिनट पर दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुंचकर कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। पीएम मोदी को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लगाई गई है। आज ही गृह मंत्री अमित शाह के घर जाकर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल की टीम उन्हें कोरोना वैक्सीन लगाएगी।

admin