कोरोना अटैक…लक्षण नहीं फिर भी पॉजिटिव

नई दिल्ली

अब अलर्ट रहना बेहद जरूरी… दिल्ली के तिलक विहार में 27 कोरोना पॉजिटिव मिले, ज्यादातर में कोई लक्षण नहीं था

कोरोना वायरस का खतरा कम होने की जगह बढ़ता जा रहा है। अब वायरस चुपचाप अटैक कर रहा है। राजधानी दिल्ली में ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं दिख रहा था फिर भी टेस्ट में वे पॉजिटिव पाए गए। वेस्ट दिल्ली में रविवार को रैंडम टेस्ट में एक ही एरिया में 27 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कोरोना का खतरा बढ़ गया है। अब पूरे तिलक विहार इलाके को सील करने के आदेश आ गए हैं। ज्यादातर पॉजिटिव मरीजों में कोरोना के लक्षण नहीं हैं।

प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, यहां पर 13 अप्रैल को एक 72 साल की कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत हुई थी। उनका अंतिम संस्कार प्रोटोकॉल के हिसाब से 15 अप्रैल को किया गया। अंदाजा है कि उसी वजह से लोगों में यह संक्रमण फैला है। एरिया सील होने से यहां के 15000 के करीब लोग अपने घरों के बाहर नहीं आ पाएंगे। ऐसे में इतनी बड़ी आबादी को सील करने की वजह से कुछ समस्याएं भी आ सकती हैं।

यह सैंपल तिलक विहार से महज एक-डेढ़ किलोमीटर के दायरे में बने घरों से लिए गए थे। रिपोर्ट आते ही इन सभी लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है। यहां अधिकांश घर चार मंजिला हैं, इसलिए दिखने में एरिया छोटा लगता है। लेकिन आबादी काफी अधिक है। इन लोगों में तिलक विहार चौकी में तैनात एक पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। जिसके बाद अब चौकी इंचार्ज समेत इस चौकी के सभी पुलिसकर्मियों को क्वारंटीन किया गया है। प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली सरकार के निर्देश के बाद जिले में रैंडम जांच का दायरा बढ़ाया गया था। जिसके बाद टीमें कुछ जगहों पर घर-घर जाकर जांच कर रही थीं। इसी एरिया में यहां से छह गलियों में रहने वाले लोगों के करीब 80 सैंपल लिए गए थे। इनमें से करीब 18 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके अलावा प्राइवेट लैब ने भी वेस्ट जिले से 18 के करीब टेस्ट किए हैं।

पूरे इलाके को करेंगे सील

यहां पुलिस और हेल्थ डिपार्टमेंट की टीमों को सक्रिय कर दिया गया है। तीन दिन पहले ही यहां से करीब तीन-चार किलोमीटर दूर एक टीबी के मरीज की कोरोना से संक्रमण के बाद मौत हो गई थी। इनके बेटे फूड इंस्पेक्टर हैं। इसके बाद भी 1000 के करीब लोगों को जिसमें शिक्षा विभाग, फूड सप्लाई विभाग, पीड़ित परिवार के किरायेदार, पड़ोसियों आदि को क्वारंटीन किया गया है। देर शाम तक फूड इंस्पेक्टर की रिपोर्ट नहीं आई थी।

admin