इटली में व्यक्ति को ठीक होने बाद फिर से हो गया कोरोना, डॉक्टर हैरान

रोम

कोरोना का कहर रिपोर्ट के मुताबिक व्यक्ति न सिर्फ आइसोलेशन में था बल्कि इसका इलाज हुआ और डिस्चार्ज करने से एक दिन पहले ही इसमें फिर से दिखने लगे लक्षण

इटली में कोरोना संक्रमण के नए मामले लगातार सामने आ रहे हैं, यहां कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 35713 हो चुकी है जबकि 3000 से ज्यादा लोग इससे मारे जा चुके हैं। हालांकि अब इटली के डॉक्टर्स को कोरोना के कुछ ऐसे केस मिले हैं जिससे सिर्फ उन्हें ही नहीं पूरी दुनिया को एक नए तरह के खतरे का सामना करना पड़ सकता है। यहां कुछ ऐसे मरीज मिले हैं जिन्हें कोरोना हुआ, इलाज से ठीक हो ही गया लेकिन दोबारा ये उसी संक्रमण के शिकार हो गए हैं।

द सन में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक ट्यूरिन शहर में रहने वाले 40 वर्षीय व्यक्ति को दोबार कोरोना हो गया है। ये व्यक्ति न सिर्फ आइसोलेशन में था बल्कि इसका इलाज हुआ और टेस्ट में ये नेगेटिव भी आया लेकिन डिस्चार्ज करने से एक दिन पहले ही इसमें फिर से लक्षण दिखने लगे और टेस्ट में ये फिर से पॉजिटिव पाया गया है। इस व्यक्ति को अमेडो डी सावियो सिटी हॉस्पिटल में बीते महीने से आइसोलेशन में रखा गया था।

रिपोर्ट के मुताबिक बीते सोमवार को इसका टेस्ट नेगेटिव आया और इसे डिस्चार्ज करने का फैसला लिया गया, हालांकि इसी शाम को इस व्यक्ति में फिर से कोरोना के लक्षण नज़र आने लगे। अब अस्पताल को समझ नहीं आ रहा है कि आइसोलेशन में रहने के बावजूद इस व्यक्ति को फिर से कोरोना संक्रमण होने की क्या वजह है। फिलहाल इसे रोककर फिर से इसका इलाज और कई तरह के टेस्ट भी किए जा रहे हैं। अस्पताल के वायरोलॉजिस्ट प्रोफ़ेसर जिवानी दी पेरी के मुताबिक हमने टेस्ट किया था और ये व्यक्ति नेगेटिव था, इस टेस्ट में कोई गलती नहीं हो सकती। हालांकि उन्होंने माना कि हो सकता है कि इस वायरस में टेस्ट के नेगेटिव और पॉजिटिव आने के बीच की भी एक फेज हो जिसका पता अभी तक हमें नहीं है। उन्होंने ये भी कहा कि इटली में कई और अस्पतालों में भी इस तरह के केस सामने आए हैं लेकिन अभी सारे डॉक्टर्स का ध्यान सिर्फ इलाज पर है, क्योंकि मरीज काफी ज्यादा हैं।

दो अमेरिकी सांसद हुए कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार

अमेरिका में दो सांसदों को भी कोरोना वायरस के संक्रमण में पॉजिटिव पाया गया है। अमेरिका में संक्रमण की वजह से अब तक 150 मौतें हो चुकी हैं। चपेट में 10 हजार लोग आ चुके हैं। फ्लोरिडा से रिपब्लिकन सांसद मारियो डियाज बलार्ट पहले अमेरिकी सांसद हैं, जिन्हें कोरोना वायरस के संक्रमण में पॉजिटिव पाया गया है। मारियो डियाज के दफ्तर से बताया गया है कि उन्हें शनिवार से बुखार और सिरदर्द की शिकायत थी। बुधवार को वो कोरोना वायरस के संक्रमण में पॉजिटिव पाए गए। डेमोक्रेट सांसद बेन मैकएडम्स को भी कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ है। उन्होंने कहा है कि शनिवार से उनमें हल्की सर्दी के लक्षण उभरने शुरू हुए। कोरोना वायरस के टेस्ट में वो भी पॉजिटिव निकले। बेन ने कहा है कि ‘बीमारी के मेरे लक्षण बिगड़ते चले गए।

कोविड-19 पर बहस के दौरान बेहोश हुए नीदरलैंड्स के मंत्री

हेग। नीदरलैंड्स के चिकित्सा देखभाल मंत्री ब्रूनो ब्रुइन्स संसद में कोरोना वायरस महामारी पर बहस के दौरान बेहोश हो गए। बुधवार को संसद में बहस के दौरान विपक्षी दलों द्वारा ब्रुइन्स से कड़े सवाल पूछे गए। विपक्ष ने ब्रुइंस से कहा कि उन्होंने महामारी के लिए चिकित्सा कर्मचारियों को सुरक्षात्मक उपकरण मुहैया कराने के पर्याप्त काम नहीं किया है। इसके बाद ब्रूइन्स थोड़ा डगमगाए और फिर बेहोश हो गए। ब्रुइन्स तुरंत खड़े होने में सफल रहे, थोड़ा पानी पीने के बाद वो बाहर चले गए।

admin