आज के दिन भूलकर भी न करें ये काम, हो सकता है अशुभ

आज का दिन रविवार (Sunday) है जो एक पावन दिन है और आप तो जानते ही हैं आज का दिन सूर्यदेव (suryadev) को समर्पित है । हिंदू धर्म में रविवार (Sunday) को सूर्य देव का दिन माना जाता है। ज्योतिष शास्त्रों (Jyotish Shastra) की मानें तो हर ग्रह (Grah) की अपनी-अपनी खासियत है। शास्त्रों में यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि कौन सा ग्रह मनुष्य को कैसा फल प्रदान कर सकता है। इसलिए हमें यह मालूम होना चाहिए कि हमें किस दिन कौन-कौन से कार्य नहीं करना चाहिए। रविवार (Sunday) के दिन सूर्य की पूजा की मान्यता है। माना जाता है कि सूर्य की पूजा करने और सूर्य को जल चढ़ाने से व्यक्त‍ि का तेज बढ़ता है और उसका भाग्य बलशाली होता है। इस दिन सूर्य ग्रह अपनी सबसे अधिक ऊर्जा लिए होते हैं। ज्योतिष शास्त्रियों के मुताबिक जातक की कुंडली में सूर्य की स्थिति ठीक होनी चाहिए। जिससे व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान मिलता है। इसके साथ ही उसके जीवन के कष्ट दूर होते हैं और वह खुशहाल जीवन यापन करता है। सूर्य उपासना आपके जीवन में सुख प्रदान कर सकती है। ज्योतिषचार्यों के मुताबिक रविवार को सूर्य के लिए कुछ खास उपाय करने से हमारे जीवन में सुख- शांति आती हैं।

मान्यताओं के अनुसार सूर्य की उपासना से लाभ की प्राप्ति होती है। यदि आपके साथ भी कोई समस्या है तो आप कुछ साधारण उपायों को अपनाकर अपने जीवन को खुशहाल बना सकते हैं।

रविवार (Sunday) के दिन कुछ कार्य नहीं करने चाहिए। इन कार्यों को करने से सूर्य ग्रह के कुप्रभावों का सामना करना पड़ता है। इसलिए रविवार (Sunday) के दिन कुछ बातों का ध्यान रखने से सूर्यदेव (suryadev) की सदैव कृपा बनी रह सकती है।

रविवार (Sunday) को करें यह उपाय

– सुबह उठते ही स्नान करना है तो सूर्य (Surya) दर्शन करके स्नान करें।

– घर में अगर झगड़ें होते हैं तो ॐ सूर्याय नम: का मंत्र मन ही मन जाप जरूर करें।

रविवार (Sunday) के दिन न करें ये काम
– रविवार (Sunday) को सूर्य अस्त से पहले नमक का उपयोग न करें। यह अशुभ माना जाता है।

– इस दिन किसी भी व्यक्ति को मांस व मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।

– रविवार (Sunday) को बाल न कटवाएं, सरसों के तेल की मालिश न करें, दूध को जलाने का काम न करें।

– इस दिन हो सके तो तांबे से निर्मित चीजों का क्रय-विक्रय करने से बचें।

– नीला काला या ग्रे रंग से बचें, इसके अलावा जरूरी न हो तो जुते न पहनें।

नोट– उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

admin