थाने मत जाइए… एफआईआर दर्ज करने अब पुलिस आएगी आपके पास

नगर संवाददाता | इंदौर

पायलट प्रोजेक्ट के तहत शहर में हातोद थाने से शुरुआत

अब आपको एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने जाने की जरूरत नहीं। थाने से जुड़ी एफआरवी (फर्स्ट रिस्पांस व्हीकल) खुद आपके पास आएगी। बस, आप पुलिसकर्मियों को अपनी शिकायत कहिए और एफआईआर दर्ज की जाएगी। प्रदेश में पहली बार यह पायलट प्रोजेक्ट भोपाल में दो थानों के साथ इंदौर के हातोद थाने में शुरू किया गया है। सोमवार को हातोद थाने की एफआरवी इस प्रोजेक्ट के तहत क्षेत्र में रवाना की गई।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा सोमवार को योजना एफआईआर आपके द्वार का भोपाल में शुभारंभ किया गया। इसके अंतर्गत इंदौर पुलिस द्वारा आईजी विवेक शर्मा, डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र, एसपी (पश्चिम) महेशचंद्र जैन, एएसपी मनीष खत्री, सीएसपी (गांधी नगर) सौम्या जैन व डीएसपी (टीआई हातोद) नंदिनी शर्मा द्वारा हरी झंडी दिखाकर एफआरवी को क्षेत्र में रवाना किया गया। गृहमंत्री के मुताबिक प्रदेश के हर जिले में पायलट प्रोजेक्ट के तहत एक शहरी और एक देहात क्षेत्र में एफआरवी नियुक्त की गई है, जो थाना क्षेत्र में अपराध घटित होने पर फरियादी के घर जाकर एफआईआर दर्ज करेगी। इससे क्षेत्र की जनता को किसी प्रकार की तकलीफ का सामना नहीं करना पड़ेगा। कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन का पालन करने में सहूलियत हो, इस बिंदु को मुख्य तौर से ध्यान में रखा गया है। एफआरवी में एक एएसआई और हेड कांस्टेबल 24 घंटे के लिए नियुक्त किए गए हैं।

डीएसपी चौहान गीत गाकर बढ़ा रहे मनोबल

इधर, लॉकडाउन व कर्फ्यू पालन के तहत इंदौर पुलिस द्वारा कड़ी चुनौतियों का डटकर सामना किया जा रहा है और नए-नए सकारात्मक तरीके ईजाद किए जा रहे हैं। इसके तहत डीएसपी अजीतसिंह चौहान द्वारा आम जनता के बीच जाकर इस वैश्विक महामारी में गीतों के जरिये कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाया जा रहा है।

admin