फाल्‍गुन अमावस्‍या के दिन करें ये काम सुख, संपत्ति की होगी प्राप्ति

हिंदू धर्म में फाल्गुन या फागुन मास (Fagun month) का काफी महत्व है। इस महीने में आने वाली फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) को काफी लाभकारी माना जाता है। इस दिन लोग सुख, संपत्ति और सौभाग्य की प्राप्ति के लिए व्रत रखते हैं। इस दिन पितरों की आत्मा की शांति के लिए तर्पण या श्राद्ध भी किया जाता है। साल 2021 में फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) 13 मार्च (शनिवार) को मनाई जाएगी है। मान्यता है कि अमावस्या के दिन कुछ बातों का विशेष ध्यान रखा जाता है जिससे आपके सारे पाप कट जाते हैं और जीवन में खुशहाली आती है।

माना जाता है कि फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) पर देवताओं का निवास संगम तट पर होता है। इस दिन प्रयाग संगम पर स्नान का भी अति महत्व होता है। एक खास बात और बता दें कि फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) सोमवार, मंगलवार, गुरुवार या शनिवार को होती है तो लोगों के जीवन पर इसका असर सूर्य ग्रहण से भी ज्यादा सकारात्मक होता है।

फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) शुभ मुहूर्त-

मार्च 12, 2021 को 15:04:32 से अमावस्या आरम्भ।
मार्च 13, 2021 को 15:52:49 पर अमावस्या समाप्त।

फाल्‍गुन अमावस्‍या के दिन करें ये काम (Phalgun amavasya)

सुबह उठने के बाद दैनिक कार्यों से निवृत होकर गंगा या किसी भी पवित्र नदी में जाकर स्नान करना चाहिए।

फाल्गुन अमावस्या के दिन गरीबों को दान करना शुभ माना जाता है। ऐसा करने से आपके पूर्वज खुश होंगे।

इस दिन शाम को पीपल के पेड़ के पास सरसों तेल का दीया जलाएं और पीपल पेड़ का सात चक्कर भी लगाएं। ऐसा करते समय अपने पूर्वजों को याद करें।

फाल्गुन अमावस्या (Phalgun amavasya) के दिन भगवान शिव, अग्नि देवता और ब्राह्मणों को उड़द दाल, दही और पूरी के रूप में नैवेद्यम जरूर अर्पण करें।

इस दिन महादेव मंदिर जाकर शिव भगवान को गाय का दूध, दही और शहद से अभिषेक करें। साथ ही काला तिल भी चढ़ाएं।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

admin