देश की राजधानी दिल्ली में हुआ चुनावी तारीखों का ऐलान

विभव देव शुक्ला

देश के तमाम राज्यों में चुनाव हो जाने के बाद अब देश की राजधानी के चुनावों का ऐलान हो चुका था। लंबे समय से दिल्ली के चुनावों को लेकर चर्चा ज़ोरों पर थी लेकिन चुनाव आयोग ने हर तरह की अटकलों पर रोक लगा दी है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस वार्ता के ज़रिये दिल्ली में होने वाले चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है।

22 फरवरी तक दिल्ली को मिलेगी नई सरकार
जल्द से जल्द पूरी राजधानी दिल्ली में आचार संहिता लागू कर दी जाएगी। सबसे पहले 14 जनवरी को चुनाव की अधिसूचना जारी की जाएगी और उसके बाद उम्मीदवारों को नामांकन दाखिल करने के लिए 21 जनवरी तक का समय मिलेगा। इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण 8 फरवरी को दिल्ली के भीतर चुनाव तय किए गए हैं और 11 फरवरी को मतों की गिनती होगी। अंततः 22 फरवरी तक दिल्ली की जनता को नई सरकार मिल जाएगी।

किन मामलों में खास है इस बार का चुनाव
इस बार के चुनावों के साथ कुछ खास बातें भी हैं, इन चुनावों में वरिष्ठ नागरिकों के लिए खास इंतज़ाम किए गए हैं। साथ ही ऐसे मतदाता जो किसी कारणवश अपना मत नहीं दे पाते हैं उनके लिए नई सुविधा शुरू की गई है जिसे नाम दिया गया है एबसेंटी वोटर। जिसके तहत जो लोग मत नहीं दे पाते हैं उनके लिए वोट करना सम्भव होगा। वहीं 80 साल से ज़्यादा की उम्र के लोग और पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी पोस्टल बैलेट के ज़रिये अपना मत दे सकते हैं।

कितने मतदाता देंगे मत
चुनाव आयोग के मुताबिक इस बार दिल्ली में मतदाताओं की संख्या 14692136 है। इतने मतदाताओं के लिए चुनाव आयोग ने कुल 13750 पोलिंग स्टेशन बनाए हैं जिस पर लगभग 90 हज़ार कर्मचारी तैनात होंगे। इस बार चुनावी लड़ाई 3 दलों के बीच है, आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस। पिछली बार आप ने 70 सीटों में से कुल 67 सीटें जीतीं थीं और भाजपा ने महज़ 3 सीटें जीती थीं। जबकि कांग्रेस के हाथ एक भी सीट नहीं लगी थी।

admin