कोरोना वायरस भी नहीं रोक पाया इस शादी को

विभव देव शुक्ला

पूरी दुनिया चीन में फैले कोरोना वायरस से डरी हुई है। दुनिया भर के देशों में चीन से आने वाले लोगों को लेकर सावधानी बरती जा रही है, जिससे आम लोग इस वायरस की चपेट में न आ जाएँ। लेकिन इसके ठीक उलट पश्चिम बंगाल में कुछ ऐसा हुआ जिसमें एक व्यक्ति ने इस डर को सिरे से खारिज कर दिया। जहाँ एक तरफ पूरी दुनिया की बड़ी आबादी चीन के लोगों से बच रही हैं वहीं दूसरी तरफ बंगाल के पूर्वी मेदनापुर में रहने वाले व्यक्ति ने चीन की महिला से शादी रचाई है।

सात साल पहले मिले थे
शादी खुद में अलग और दिलचस्प थी, चीन की लड़की के परिवार वाले वायरस के चलते शादी में शामिल नहीं हो पाए। दोनों की मुलाक़ात आज से 7 साल पहले एक बिज़नेस डील के दौरान चीन में हुई थी। जियाकी ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए बताया कि मेरा परिवार कोरोना वायरस के चलते शादी में शामिल नहीं हो पाया। लेकिन सभी लोग इस शादी से खुश ज़रूर हैं।
भारत और चीन के बीच सारी हवाई यात्राएं भी फिलहाल बंद हैं। चीन वापस जाने के सवाल पर जियाकी ने कहा हम चीन ज़रूर जाएंगे पर अभी नहीं। जब वहाँ सब कुछ ठीक हो जाएगा तब हम चीन जाएंगे और बची हुई प्रक्रिया पूरी करेंगे। जियाकी के पति पिन्टू ने कहा कि हम चीन में भी एक सेरेमनी करेंगे। भले उसका परिवार यहाँ नहीं आ पाया है लेकिन उनके लिए हम यह दोबारा चीन में भी करेंगे।

500 से अधिक मौतें
भले चीन में हालात कैसे भी हों पर यह देखने लायक था कि आखिर कैसे कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी भी प्यार करने वालों को नहीं रोक पाई। बेशक इसमें ख़तरा हो सकता था लेकिन दोनों ने हिम्मत जताई, सावधानी बरती और एक दूसरे पर भरोसा किया, नतीजा सभी के सामने है। हालांकि चीन में हालात बहुत बेहतर नहीं हैं, कोरोना वायरस से अभी तक लगभग 500 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। लेकिन इन सभी के बीच कोरोना वायरस को लेकर एक अच्छी ख़बर भी आई है कि थाईलैंड में प्रभावित व्यक्ति का सही इलाज हुआ है।

admin