किसान ट्रैक्टर रैली : बवाल की कहानी, एसएचओ की जुबानी…

नई दिल्ली । दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए उपद्रव में वजीराबाद के एसएचओ पीसी यादव गंभीर रूप से घायल हुए। पीसी यादव ने बताया कि वह अपनी टीम के साथ लाल किले में तैनात थे, तभी उपद्रवियों का एक जत्था लाल किले में आया और लाल किले की दीवार पर चढ़ने लगे। उन लोगों को रोकने के लिए पुलिसकर्मी भी चढ़ने लगे और वहां मौजूद कुछ लोगों को समझाकर नीचे भेजने लगे। लाल किले की प्राचीर से हटाने के क्रम में उपद्रवियों की भीड़ बेकाबू हो गई और पुलिसकर्मियों पर हमला करने लगी।

यादव ने बताया कि उपद्रवियों के पास कई तरह के घातक हथियार थे, जिसके जरिए वह लगातार पुलिसकर्मियों पर हमले कर रहे थे। इसी बीच एक पुलिसकर्मी के सिर पर किसी घातक हथियार से हमला किया गया और उसके सिर से खून बहने लगा। जब उसे लेकर यादव वहां से निकलने लगे तो उपद्रवियों ने उन पर भी हमला कर दिया। सिर पर हेलमेट पहना हुआ था। इसलिए मैंने लाठियों के कई प्रहार सह लिये, लेकिन अचानक पीछे से किसी ने मेरे सिर पर तलवार से वार किया, जिसके कारण मेरा हेलमेट टूट गया और मैं लगभग बेहोश हो गया।

admin