गाजीपुर-नोएडा मोड़ पर किसानों ने तोड़े बैरिकेड, पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे

गाजियाबाद । एक और जहां गणतंत्र दिवस की धूम है वहीं नोएडा मोड़ पर कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने दिल्ली घुसने के प्रयास में पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेडिंग तोड़ दिए जिसको लेकर पुलिस व किसानों के बीच जमकर झड़प हुई। पुलिस ने टियर गैस के गोले दागे और बल प्रयोग कर किसानों को खदेड़ दिया। इस दौरान किसान सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत का कहना है कि किसान शांतिपूर्वक अपना आंदोलन चला रहे हैं और ट्रैक्टर परेड का संचालन कर रहे हैं। मंगलवार की सुबह को कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान गाजीपुर बॉर्डर नोएडा मोड़ पर बैरिकेड तोड़ दिए। इस दौरान वहां मौजूद पुलिस बल ने पहले तो किसानों को रोकने के कोशिश की लेकिन आक्रमक किसानों ने पुलिस की एक न सुनी और बैरिकेडिंग तोड़ डाली। इसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। इसके साथ ही किसानों पर लाठीचार्ज किये जाने की खबर है। दरअसल, अक्षरधाम से पहले एनएच 09 पर पुलिस ने बैरिकेडिंग की हुई थी, लेकिन कुछ किसानों के जत्थे ने ट्रैक्टरों के साथ कुछ बैरिकेडिंग को तोड़कर दिल्ली की तरफ घुसने की कोशिश की। पुलिस द्वारा आंसू गैस के किसानों को वहां से खदेड़ा गया।

किसान संगठनों के द्वारा ट्रैक्टर रैली के दृष्टिगत रखते हुए कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से आईजी पुलिस जोन मेरठ प्रवीण कुमार, जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी यूपी गेट पर डटे रहे लेकिन वहां की स्थिति विस्फोटक हो गई है।

admin