भारत में पहली मौत! मलेशिया से लौटा था शख्स

कोच्चि/नई दिल्ली

जानलेवा कोरोना वायरस, चीन में अब तक 2870 लोगों ने गंवाई जान

भारत में कोरोना वायरस के कारण पहली मौत होने की खबर है। जैनेश नामक 36 साल के युवक को केरल के एर्नाकुलम के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था, जिसमें कोविड-19 जैसे लक्षण देखने को मिल रहे थे। शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई। डॉक्टर यह जांच करने में जुटे हैं कि क्या जैनेश की मौत कोरोना वायरस से हुई है या फिर और कोई वजह है? मृतक शख्स मलेशिया से लौटा था और उसके टेस्ट की पहली रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

अलापुझा के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) की रिपोर्ट के मुताबिक जैनेश कोविड-19 से संक्रमित नहीं था। हालांकि, उसके शव को अभी भी आइसोलेशन में ही रखा गया है और डॉक्टर जांच कर रहे हैं। चिकित्सा सूत्रों के अनुसार कन्नूर निवासी जैनेश ढाई साल से मलेशिया में रह रहा था और वहां जॉब करता था। 27 फरवरी की रात को ही वह कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचा था। जांच में पाया कि वह न्यूमोनिया से भी पीड़ित था।

कोरोना पीिड़त के संपर्क में आई युवती एमवाय में भर्ती

इंदौर। इटली से कुछ दिन पहले इंदौर लौटी युवती को कोरोना वायरस संक्रमण के संदेह के चलते यहां एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया है। विदेश में वह एक संक्रमित मरीज के संपर्क में आई थी। बीमारी के लक्षण सामने आने पर 24 वर्षीय इस युवती को एहतियातन भर्ती किया है। इंटीग्रेटेड डिसीज सर्विलेंस प्रोग्राम (आईडीएसपी) के प्रभारी डॉ. एस. सिसोदिया ने बताया युवती इटली में कुछ दोस्तों के साथ पार्टी में शामिल हुई थी, जिसके बाद एक दोस्त में बीमारी के लक्षण सामने आए और कोरोना वायरस की जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

admin