जैक्लीन विलियम्स मेन्स इंटरनेशनल मैच में पहली महिला थर्ड अंपायर

नई दिल्ली

वेस्टइंडीज की जैक्लीन विलियम्स मेन्स इंटरनेशनल मैच में थर्ड अंपायर बनने वाली पहली महिला हैं। आयरलैंड-वेस्टइंडीज के बीच बुधवार को खेले गए पहले टी-20 मैच में वे थर्ड अंपायर थीं। जमैका की रहने वाली 43 साल की विलियम्स सीरीज के तीनों मैच में थर्ड अंपायर होंगी। उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिए बहुत बड़े सम्मान की बात है। एक मेन्स इंटरनेशनल मैच में टीवी अंपायर की भूमिका को लेकर उत्साहित हूं। इससे पहले पुरुषों के मैच में थर्ड अंपायर की भूमिका निभाई है, लेकिन इंटरनेशनल मैच में यह पहली बार होगा।’’

विलियम्स ने कहा, ‘‘मैं कई सालों से समर्थन और मदद के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद और वेस्टइंडीज क्रिकेट की शुक्रगुजार हूं। उम्मीद करती हूं कि और अधिक महिलाएं अंपायरिंग करें।

यह एक चुनौतीपूर्ण काम है, लेकिन इससे मुझे बहुत खुशी होती है।’’ इस तरह से जैकलीन विलियम्स का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया। वहीं, पिछले साल अप्रैल में ऑस्ट्रेलिया की क्लायर पोलासक आईसीसी मेंस वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिवीजन-2 के एक मुकाबले में बतौर अंपायर खड़ी हुई थीं। ये मैच नामीबिया और ओमान के बीच खेला गया था। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया की क्लायर ने पहली महिला अंपायर बनने का गौरव हासिल किया था।

बता दें कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी ने महिलाओं की भागेदारी बतौर
मैच ऑफिशियल्स को लेकर कहा है कि हम महिलाओं को हर क्षेत्र में आगे देखना चाहते हैं तो क्रिकेट में भी महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़नी चाहिए। आइसीसी भी महिलाओं को इसलिए बढ़ावा दे रहा है जो कि उनके लिए सशक्तिकरण की तरह है।

भारत की लक्ष्मी आईसीसी पैनल में नियुक्त होने वाली पहली महिला मैच रेफरी थीं

पिछले महीने भारत की जीएस लक्ष्मी ने दुबई में आईसीसी मेन्स क्रिकेट वर्ल्ड क्रिकेट लीग-2 की तीसरी सीरीज में रेफरी थी। वे मेन्स वनडे में पहली महिला रेफरी थीं। इससे पहले मई में वे आईसीसी पैनल में नियुक्त होने वाली पहली महिला मैच रेफरी बनी थीं। पिछले साल अप्रैल में ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक नामिबिया और ओमान के बीच आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट डिविजन-2 के दौरान मेन्स वनडे में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला थीं।

admin