अचानक खुफिया अफसरों से मिलने पहुंचे इमरान, सुरक्षा संबंधी हालातों की ली जानकारी

देश के बिगड़ते हालातों से चिंतित पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने देश की सबसे ताकतवर खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेस इंटेलिजेंस के मुख्यालय का दौरा किया। यहां उन्हें खुफिया एजेंसी के अधिकारियों ने पाकिस्तान के सुरक्षा संबंधी ताजा परिस्थितियों से अवगत कराया। प्रधानमंत्री कार्यालय  ने कहा कि देश के राष्ट्रीय सुरक्षा परिस्थितियों की विस्तृत जानकारी दी गई। इमरान के साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, योजना मंत्री असद उमर, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा समेत वायु सेना प्रमुख और नौसेना प्रमुख मौजूद रहे। आईएसआई के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद ने उन्हें सुरक्षा हालात से अलगत कराया। हाल ही में नवाज शरीफ समेत विपक्ष के कई नेताओं ने सीधे तौर पाकिस्तानी सेना और आईएसआई को लेकर जमकर निशाना साधा है।

माना जा रहा है अचानक आईएसआई के मुख्यालय पहुंचकर इमरान खान ने अवाम को संदेश देने की कोशिश की है। उन्होंने पाकिस्तानी जनता को बताया कि देश की सरकार अब भी आईएसआई और पाक सेना के साथ खड़ी है।पाक के पूर्व पीएम नवाज शरीफ ने पाकिस्तनी सेना  और आईएसआई के ऊपर अपनी सरकार गिराने का आरोप लगाया था। उन्होंने खुलकर जावेज बाजवा का नाम लिया था। नवाज ने कहा था कि पाकिस्तान सेना ने इमरान को जीत दिलवाने में मदद की थी इमरान राष्ट्रवादी भावना भड़काना चाहते हैं पाकिस्तान सरकार आर्थिक मोर्च पर पूरी तरह से फेल हो चुकी है। देश की स्थिति ऐसी हो चुकी है कि कोई भी देश उसे कर्ज देने को तैयार नहीं है। खाने पीने की चीजों के दाम आसमान छू रहे हैं। ऐसे में इमरान खान राष्ट्रवादी भावना भड़काकर देश की जनता का ध्यान मुद्दों से हटाना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *