अब रायगढ़ के पेपर मिल में भी हुआ गैस लीक हादसा, सात मजदूर की हालत खराब

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

विशाखापट्टनम जैसा गैस लीक हादसा छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में भी हुआ। यह घटना बुधवार की है लेकिन पता गुरुवार को लगा।रायगढ़ के तेतला गांव में पेपर मिल में जहरीली गैस लीक होने से 7 मजदूरों की तबीयत बिगड़ गई है। 

रायगढ़ पुलिस के मुताबिक मिल में टंकी साफ करते समय यह हादसा हुआ। मिल मालिक ने हादसे की जानकारी छिपाने की कोशिश की। गुरुवार को खुलासा हुआ तो डीएम, एसएसपी और दूसरे अधिकारियों ने मिल में और अस्पताल में जाकर जायजा लिया। 

मिल चालू कराने की कोशिश में हुआ हादसा

पुसौर थाने के तेतला में पेपर मिल मौजूद है। जहां क्लोरीन गैस पाइप-लाइन फट गई। जिसके कारण वहां मौजूद सात मजदूर झुलस गए। घटना के बाद सभी को संजीवनी नर्सिंग होम में भर्ती करवाया गया है। जिसके बाद घायलों को देखने कलेक्टर ओर पुलिस अधीक्षक अस्पताल पहुंचे। हादसे में घायल तीन मजदूरों की हालत गंभीर बनी हुई है। तीन मजदूरों को रायपुर रैफर किया गया है।

रायगढ़ के कलेक्टर यशवंत कुमार दिन के करीब 3 बजे एसपी के साथ पीड़ितों से मिलने पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने बताया कि मिल के मालिक ने शुरुआत में जानकारी मिलने के बाद उसे छिपाने की कोशिश की और पुलिस को सूचना नहीं दी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन के कारण मिल बंद थी। मिल मालिक मिल चालू करने के लिए सफाई का कार्य कर करा रहा था। इसी दौरान यह हादसा हुआ। सफाई के दौरान सात मजदूर किसी जहरीली गैस के संपर्क में आए और बीमार हो गए।

विशाखापट्टनम की हृदयविदारक घटना

आज विशाखापट्टनम में हुए गैस लीक के हादसे ने हर किसी को दहला दिया है। अब तक इस हादसे में दस लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि करीब 200 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। विशाखापट्टनम में गैस लीक जैसा हादसा कैसे हुआ इसकी जांच की जा रही है।

admin