उत्तराखंड के चमोली जिले में आई तबाही के कारणों का पता लगाएगी जीएसआई

नई दिल्ली। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) ने उत्त‍राखंड के चमोली जिले में हुई तबाही के कारणों की जांच के लिए एक समिति का गठन किया है। सोमवार को महानिदेशक डॉ रंजीत रथ ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस टीम को वहां रवाना कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में हुई तबाही के कारणों के बारे में अभी कुछ कहना सही नहीं है। पहली नजर में इस त्रासदी के पीछे  ऋषिगंगा और धौली गंगा क्षेत्र में सबसे अधिक ऊंचाई पर होने वाली हिम नदियां हो सकती हैं। विशेषज्ञों की टीम मौके पर जाकर स्थिति का अध्ययन करेगी।

अध्ययन और आंकड़े जुटाने में उपग्रह से प्राप्त चित्रों का आकलन भी किया जाएगा।  दरअसल,  रविवार को उत्तराखंड के चमोली जिले में अचानक आई बाढ़ के मलबे से अभी तक 20 लोगों के शव निकाले गए हैं और 197  से अधिक लोग लापता हैं। इनकी तलाश में रेस्क्यू ऑपरेशन सोमवार को दूसरे दिन भी जारी है।

admin