3 महीने में किया जाने वाला चीन से 900 करोड़ के डील को हीरो साइकिल कंपनी ने किया रद्द

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

गलवां में चीन के साथ हिंसक झड़प के बाद मोदी सरकार ने डिजिटल स्ट्राइक कर 59 चाइनीज एप को बंद कर दिया है। वहीं हीरो साइकिल भी चीन को झटका देने के लिए तैयार है।

दरअसल हीरो साइकिल के एमडी पंकज मुंजाल ने चीन के साथ 900 करोड़ का व्यापार रद्द करने की बात कही है। मुंजाल की इस घोषणा को सीधे चीन पर ट्रेड स्ट्राइक माना जा रहा है।

सरकार को 100 करोड़ रुपये भी दान में दिए थे

ये व्यापार हीरो ने चीनी कंपनियों के साथ किया था। इससे पहले हीरो साइकिल ने कोरोना से निपटने के लिए सरकार को 100 करोड़ रुपये भी दान में दिए थे।

लुधियाना में कई बड़ी कंपनियां हैं जिनमें से हीरो साइकिल भी प्रमुख है। करोना वायरस के चलते जब पूरी दुनिया भर की कंपनियां अपनाकारोबार बचाने के लिए कोशिश कर रही थीं, वहीं पर हीरो साइकिल उस वक्त भी आगे बढ़ रही थी।

अब साइकल के ये पार्ट्स भारत के लोकल मार्किट में बनेगे

हीरो साइकिल कंपनी को चीन से 900 करोड़ के साइकिल के पार्ट्स खरीदने थे परन्तु देश में चल रही चीन के बहिष्कार की मुहिम का समर्थन करते हुए इसको रद्द करने का फैसला लिया है। जो आने वाले 3 महीनों में किया जाना था।

इसके साथ ही कंपनी ने ये स्पष्ट तौर पर कहा है कि आत्मनिर्भर अभियान के अंतर्गत अब साइकल के ये विभिन्न भाग भारत की लोकल मार्किट में ही बनेगे।

अब हीरो साइकिल छोटी कंपनियों के नुकसान की भरपाई कर रही है

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हीरो साइकिल के एमडी और डायरेक्टर पंकज मुंजाल ने बताया कि चीन का बायकॉट करने के लिए यह फैसला लिया है। अब कंपनी ने चीन के साथ सभी तरह के व्यापार को बंद कर दिया है। विश्व में दूसरे देशों के बीच कंपनी की तरफ से अब भविष्य तलाशा जा रहा है जिसमें जर्मनी अहम है।

जर्मनी के इस प्लांट से पूरे यूरोप में हीरो साइकिल की सप्लाई की जाएगी। कंपनी के मुताबिक पिछले दिनों में हीरो साइकिल की मांग काफी बढ़ी है और हीरो साइकिल ने भी अपनी क्षमता बढ़ाई है। हालांकि, ये ध्यान देने वाली बात है कि इस दौरान बहुत सी छोटी कंपनियों को नुकसान हुआ है। अब हीरो साइकिल उन छोटी कंपनियों के नुकसान की भरपाई कर रही है।

admin