ईरान…जेल में बंद 70 हजार कैदियों को किया रिहा

तेहरान

पूरी दुनिया में एक लाख 17 हजार से ज्यादा लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण। 4000 से ज्यादा लोगों की मौत

कोरोना वायरस दुनियाभर में तेजी से पैर पसार रहा है। दुनिया के 105 देश इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इसके संक्रमण से 4251 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 1 लाख 17 हजार 339 से ज्यादा कोरोना के संक्रमण से पीड़ित हो चुके हैं। चीन के बाद इसका सबसे अधिक कहर इटली और ईरान में देखने को मिल रहा है। इटली और ईरान में बीते एक सप्ताह में सबसे अधिक संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं। इटली में अब तक 631 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी तरह से ईरान में अब तक 291 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना से अपने यहां जेलों में बंद कैदियों को बचाने के लिए ईरान ने एक नया कदम उठाया है। उनके यहां जेलों में बंद 70 हजार कैदियों को फिलहाल रिहा कर दिया गया है। ईरान में ज्यूडिशियल हेड (न्यायिक मुखिया) इब्राहिम रईसी ने बताया कि जेल में बंद कैदियों को कोरोना न हो जाए इसको ध्यान में रखकर ये काम किया गया है।

दरअसल, ये माना जाता है कि कोरोना संक्रमण से फैलता है, यदि संक्रमित लोग एक दूसरे के संपर्क में रहते हैं तो इसके फैलने की संभावना अधिक हो जाती है। इसको ध्यान में रखते हुए ही इन कैदियों को फिलहाल रिहा कर दिया गया है। उन्होंने ये भी कहा है कि जिन कैदियों को रिहा किया गया है उनको कोरोना संक्रमण पर रोक लग जाने के बाद खुद से ही वापस जेल में आना होगा।

इटली में फंसे तेलंगाना और आंध्रप्रदेश के सैकड़ों स्टूडेंट

रोम। इटली में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। इसके बाद यहां कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए गए हैं। करोड़ों लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं। ऐसे में सैकड़ों भारतीय स्टूडेंट भी यहां फंसे हुए हैं। इटली के पदोवा, रिमिनि, मोदेना और मिलान में तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के सैकड़ों छात्र फंसे हुए हैं। इन जगहों पर कोरोना का प्रकोप सबसे ज्यादा है।

admin