आईएसएल-7 : तीसरा स्थान नजर में लिए आपस में भिड़ेंगे नॉर्थईस्ट, हैदराबाद

गोवा। बीते सीजन में हैदराबाद एफसी और नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की अंक तालिका में सबसे नीचे रहे थेष लेकिन इस सीजन में दोनों टीमों ने अपनी मेहनत के दम पर किस्मत बदली है और अब वे प्लेआॅफ के लिए क्वालीफाई करने की दौड़ में हैं।

इन दोनों टीमों ने अब तक 15 मैचों से 22-22 अंक जुटाए हैं। बेहतर गोल अंतर के कारण हैदराबाद चौथे स्थान पर है जबकि हाईलैंडर्स पांचवें स्थान पर हैं। अब जबकि दोनों को रविवार को यहां के तिलक मैदान पर भिड़ना है तो यह साफ है कि जीतने वाली टीम तीसरे स्थान पर पहुंच जाएगी।

निजाम्स नाम से मशहूर हैदराबाद एफसी बीते सात मैचों से अजेय है। इसी तरह हाईलैंडर्स भी पांच मैचों से अजेय हैं। अंतरिम कोच खालिद जमील की देखरेख में हाईलैंडर्स ने काफी सुधार किया है।

जनवरी में कोच बनने वाले खालिद की देखरेख में यह टीम अब तक हारी नहीं है। पांच मैच उसने इसके बाद खेले हैं और इनमें से तीन जीते हैं जबकि बाकी ड्रॉ रहे हैं। यह टीम नौ मैचों में क्लीन शीट हासिल करने में सफल रही है। इस टीम का अटैक शानदार रहा है। अग्रिम पंक्ति ने कुल 21 गोल किए हैं जो एफसी गोवा के बाद दूसरा श्रेष्ठ आंकड़ा है।

ऐसा नहीं है कि हैदराबाद के कोच मैनुएल मारक्वेज को खालिद और उनकी के हालिया प्रदर्शन का ज्ञान नहीं है। वह कहते हैं, ‘‘खालिद का काम अच्छा है क्योंकि एटीके मोहन बागान, जमशेदपुर औ्र मुम्बई सिटी के खिलाफ जीतना आसान नहीं है। साथ ही अगर आप गोवा के खिलाफ 0-2 से पीछे हैं और फिर आप 2-2 से ड्रा खेलते हैं तो यह शानदार उपलब्धि है। मेरी नजर में खालिद ने खिलाड़ियों के अंदर आत्मविश्वास का संचार किया है। यह टीम डिफेंस में काफी सुनियोजित तौर पर खेलती है और अटैक में भी उसके पास कई अच्छे खिलाड़ी हैं। हम अगर अपने स्टाइल पर कायम रहे तो हमारे जीतने के पूरे-पूरे आसार हैं।’’

हाईलैंडर्स के खिलाफ अपनी जीत की सम्भावना को बल देने के लिए हैदराबाद को फेडरिको गालेघो पर नजर रखना होगा क्योंकि वह इस टीम के अटैक की धुरी हैं। गालेघो ने अब तक चार गोल किए हैं और इससे भी अधिक एसिस्ट उनके नाम है। खालिद हालांकि मानते हैं कि टीम की हालिया सफलता किसी एक खिलाड़ी के कारण नहीं बल्कि सबकी मेहनत का नतीजा है।

खालिद ने कहा, ‘‘’’ “यह जीत किसी एक की मेहनत का नतीजा नही है। हर कोई कड़ी मेहनत कर रहा है, खिलाड़ी अपना काम कर रहे हैं और आनंद ले रहे हैं। यहां तक कि कर्मचारी भी, हर कोई एक साथ काम कर रहा है। यह मुख्य रहस्य है (हमारी सफलता का)।” लेकिन एक पहलू को लेकर खालिद चिंतित होंगे और वह यह है कि इस टीम ने दूसरे हाफ में कई गोल खाए हैं। दूसरे हाफ में इस टीम ने 60 फीसदी गोल खाए हैं।अवधि के दौरान अपने लक्ष्यों का 60 प्रतिशत भेज दिया है।

दूसरी ओर, हैदराबाद ने ब्रेक के बाद अपने 20 में से 15 गोल किए हैं। खालिद ने कहा, “हैदराबाद एक अच्छी टीम है और वे बहुत अच्छी तैयारी करते हैं। हमारी तैयारी हमेशा समान होगी लेकिन कल का मैच अहम होगा।”

admin