जबॉन्ग का गिरा शटर, अब कंपनी का मिंत्रा पर जोर

बेंगलुरु

फ्लिपकार्ट की बिजनेस स्टेटजी

ऑनलाइन शॉपिंग के लिए अब ग्राहकों को जबॉन्ग के जगह फ्लिपकार्ट का चुनाव करना पड़ेगा। दरअसल फ्लिपकार्ट ने जबॉन्क का कारोबार समेट लिया है और वह अब पूरी तरह से प्रीमियम फैशन प्लेटफॉर्म मिंत्रा पर जोर देगी। जबॉन्ग के फ्लैगशिप पोर्टल और ऐप को मिंत्रा पर ट्रांसफर किया जा रहा है। मामले से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि इस कदम से फ्लिपकार्ट बिजनेस को ज्यादा कारगर बनाने में मदद मिलेगी।

चार साल पहले कंपनी ने जबॉन्ग को 7 करोड़ डॉलर में खरीदा था। हालांकि मिंत्रा ने खबर से जुड़े समाचार एजेंसी के ईमेल का जवाब नहीं दिया। उसने बताया था कि वह जबॉन्ग के यूजर्स को ऑफर्स के जरिए मिंत्रा से जोड़ रही है।

ऐप का इस्तेमाल भी धीरे-धीरे घटा

बिजनसेज के वेब ऐनालिटिक्स ट्रैक करने वाली फर्म सिमिलरवेब के डेटा के मुताबिक, दिसंबर 2019 में जबॉन्ग के ऐप डाउनलोड में 12.71% की गिरावट आई थी। ऐप का इस्तेमाल भी धीरे-धीरे घट रहा था। दिसंबर 2019 में जबॉन्ग के डेली ऐक्टिव यूजर्स 10.61% घटे थे। वहीं मिंत्रा ऐप के डाउनलोड्स में 41.18% और डेली ऐक्टिव यूजर काउंट में 31.87% की बढ़त हुई थी।

admin