देश में बढ़ाई जा सकती है लॉकडाउन की अवधि

नई दिल्ली

पीएम ने दिए संकेत… मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंंग के जरिए विपक्षी नेताओं से कहा- संकट के दौर में एक-एक जिंदगी बचाना प्राथमिकता

देश में कोरोना संकट पर चर्चा के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सर्वदलीय बैठक की। बैठक में पीएम मोदी ने विपक्षी दलों को देश में लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत दिए। प्रधानमंत्री ने 2 बातें प्रमुखता से कही- पहला यह कि एक साथ एक ही झटके में लॉकडाउन खत्म नहीं किया जा सकता और दूसरा यह कि कोरोना से पहले और कोरोना के बाद की जिंदगी एक जैसी नहीं रहने वाली। पीएम ने इस दौरान कहा कि वह 11 अप्रैल को फिर से सभी राज्यों के सीएम से बात करेंगे। 14 को लॉकडाउन खत्म होने वाला है।

पीएम मोदी ने कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से पैदा हुए संकट के दौर में एक-एक जिंदगियां बचाना सरकार की प्राथमिकता है। पीएम मोदी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की वजह से देश के हालात अभी सोशल इमरजेंसी जैसे हैं, इस वजह से सरकार कुछ कठिन फैसले लेने पर मजबूर हुई है। इस वक्त में हमें सतर्क रहने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यों, जिला प्रशासन और विशेषज्ञों ने सुझाव दिया है कि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए लॉकडाउन का विस्तार किया जाए। इस दौरान नेताओं ने लॉकडाउन पर अपने सुझाव, फीडबैक पीएम मोदी को दिए पीएम ने इस बैठक में सरकार द्वारा कोरोना संकट से निपटने के कार्यों की जानकारी दी और नेताओं से राय मांगी। हालांकि कुछ नेताओं ने आंशिक तौर पर लॉकडाउन हटाने की भी मांग की थी। बैठक में कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद, टीएमसी के सुदीप बंदोपाध्याय, शिवसेना के संजय राउत, बीजेडी के पिनाकी मिश्रा, एनसीपी के शरद पवार, एसपी से रामगोपाल यादव, कांग्रेस से विजय साई रेड्डी मौजूद थे।

पीएम बोले, ‘एकसाथ नहीं हटेगा लॉकडाउन’

बीजेडी नेता पिनाकी मिश्रा ने बताया कि पीएम मोदी ने हमें कहा है कि कोरोना के बाद की जिंदगी पहले जैसी नहीं रह जाएगी। पीएम ने साफ किया 14 अप्रैल को एकसाथ लॉकडाउन समाप्त नहीं किया जाएगा। पीएम के साथ बैठक में शामिल होने वाले एक अन्य सांसद ने पीटीआई को बताया कि मोदी ने कहा कि वह लॉकडाउन हटाने को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे।

अभी लॉकडाउन हटाना मुश्किल होगा

बैठक में शामिल एलजेपी नेता चिराग पासवान ने कहा कि बैठक में हर किसी ने लॉकडाउन को लेकर सुझाव दिया। उन्होंने कहा, ‘कुछ लोगों ने इसे आंशिक तौर पर हटाने का सुझाव दिया जबकि कुछ लोगों ने इसे जारी रखने की अपील की। पीएम मोदी ने कहा कि अभी तक उनके पास जितनी जानकारी आई है, उसमें लॉकडाउन हटाना मुश्किल होगा।

लॉकडाउन बढ़ाने की अपील की थी

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लॉकडाउन बढ़ाने का किया था आग्रह। माना जा रहा है कि अब पीएम मोदी देश के सीएम के साथ एक अन्य बैठक के बाद के बाद लॉकडाउन पर कोई फैसला ले सकते हैं।

टीएमसी ने भी लिया बैठक में भाग

कहा जा रहा था कि पीएम मोदी की इस बैठक में हिस्सा नहीं लेगी। लेकिन पार्टी के नेता सुदीप बंदोपाध्याय भी इसमें शामिल हुए। पीएम मोदी ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, डीएमके प्रमुख स्टालिन सहित कई नेताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात कर कोरोना रोकने के लिये सरकार के प्रयासों की जानकारी दी थी।

admin