मेडागास्कर के राष्ट्रपति ने दावा किया कि इस हर्बल-टी से खत्म होगा कोरोना वायरस

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

दुनियाभर में कई वैज्ञानिक कभी ब्लड प्लाज्मा तो कभी बीसीजी के वैक्सीन में कोरोना का इलाज ढूंढ रहे हैं लेकिन उन्हें अब तक इस कोशिश का कोई सफल नतीजा नहीं मिला है। वहीं, अब मेडागास्कर के राष्ट्रपति एंड्री राजोएलिना ने आधिकारिक रूप से इसका हर्बल इलाज लॉन्च किया है।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसकी सुरक्षा और प्रभावशीलता का आकलन नहीं किया गया है, न ही परीक्षण से कोई डेटा सहकर्मी की समीक्षा में प्रकाशित किया गया है। मुख्यधारा के वैज्ञानिकों ने अनुपचारित हर्बल ड्रिंक से संभावित जोखिम की चेतावनी दी है।

राष्ट्रपति ने अपने मंत्रियों, राजनयिकों और पत्रकारों को मालागासी इंस्टिट्यूट ऑफ अपलाइड रिसर्च (आईएमआरए) में संबोधित करते हुए कहा, “टेस्ट कर लिए गए हैं इस ट्रीटमेंट से दो लोगों का इलाज किया जा चुका है। हर्बल टी सात दिनों के भीतर परिणाम दिखाने लगता है। सबसे पहले मैं इसे आपके सामने पीउंगा, यह दिखाने के लिए कि प्रॉडक्ट इलाज करता है, मारता नहीं है।”

इस ड्रिंक को कोविड-ऑर्गेनिक्स नाम दिया गया है। इसे आर्टेमिसिया नाम के प्लांट से तैयार किया गया है जो कि मलेरिया के इलाज में अपनी क्षमता साबित करत चुका है। हर्बल टी बनाने के लिए और भी स्थानीय जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया गया है।

उधर, आइएमआरए के महानिदेशक डॉक्टर चार्ल्स ने कहा, “कोविड-ऑर्गेनिक्स का इस्तेमाल प्रोफिलैक्सिस के रूप में होगा, जो कि रोकथाम के लिए है, लेकिन इसके क्लीनिकल टेस्ट ने दिखाया है कि यह सुधारात्मक इलाज में भी प्रभावी है।” इस देश में अब तक 121 केस दर्ज किए गए हैं लेकिन अब तक किसी की मौत नहीं हुई है।

महामारी ने हर्बल फार्मूलों, नींबू और अदरक जैसे न जाने कितने उपचार पैदा कर दिया है कि ये उपचार आपको वायरस से बचा सकते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोविड ​​-19 के लिए दावा किए गए इलाज के बारे में लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है, और इस कार्यक्रम में भी शामिल नहीं हुए।

यूएस सेंटर फॉर डिसीज़ कंट्रोल (सीडीसी), हर्बल या चाय उपचार के दावों का जिक्र करते हुए कहता है, “इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि इनमें से कोई भी वैकल्पिक उपचार COVID-19 के कारण होने वाली बीमारी को हो सकता है रोक या ठीक कर सकता है। वास्तव में, कुछ उनका उपभोग करना सुरक्षित नहीं हो सकता है।”

admin