पेट्रोलियम उत्पादों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ ममता का अनोखा विरोध, ई स्कूटी की सवारी कर पहुंची सचिवालय

कोलकाता । पश्चिम बंगाल में आसन्न विधानसभा चुनाव से पहले देश भर में डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ शुक्रवार से सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता राज्य भर में विरोध प्रदर्शन और आंदोलन करेंगे। पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने यह घोषणा राज्य सचिवालय में इलेक्ट्रिक स्कूटी पर बैठकर की। उसके पहले पेट्रोलियम उत्पादों की लगातार बढ़ती कीमतों को लेकर विरोध जताने के लिए सीएम ने अनोखा तरीका अपनाया। वह गले में डीजल पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ स्लोगन लिखे पोस्टर लटका कर इलेक्ट्रिक बाइक से करीब एक घंटे का सफर तय कर सचिवालय पहुंचीं। पूर्व घोषित कार्यक्रम के मुताबिक हाजरा मोड़ से सीएम ने अपना सफर शुरू किया।

राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम स्कूटी चला रहे थे और मुख्यमंत्री पीछे बैठी थीं। आगे-आगे मुख्यमंत्री की स्कूटी चल रही थी और उसके पीछे सीएम के काफिले में तैनात रहने वाले सुरक्षाकर्मी भी बाइक से चल रहे थे। ट्रैफिक नियम को मानते हुए सीएम के साथ-साथ फिरहाद व काफिले में शामिल अन्य सभी लोगों ने हेलमेट पहन रखा था। सुबह 11 बजे से हाजरा मोड़ से शुरू हुई यात्रा दोपहर 12:00 सचिवालय पहुंची। यहां सीएम ने आगे के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए कहा कि शुक्रवार से राज्य भर में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता पेट्रोलियम की बढ़ी हुई कीमतों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे। साथ ही सीएम ने देश भर की विपक्षी पार्टियों से भी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ आंदोलन का आह्वान किया।

गुजरात में बने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम किए जाने को लेकर भी ममता ने केंद्र पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि वह किसी दिन देश का नाम भी बदल देंगे। इसके अलावा सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर भी उन्होंने केंद्र पर निशाना साधा। ममता ने कहा कि रसोई गैस की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। 800 रुपये प्रति सिलेंडर कीमत हो गई है लेकिन सब्सिडी नहीं बढ़ रही।

भाजपा के शीर्ष नेताओं पर निशाना साधते हुए ममता ने कहा कि चुनाव के समय आते हैं और कहते हैं कि लोगों को गैस देंगे लेकिन वास्तव में बैलून में भरे जाने वाले गैस की तरह ही उनकी बातें हैं जिसमें कोई सच्चाई नहीं है। केवल हवा हवाई हैं। उन्होंने कहा जीस तरह से वह ई-स्कूटी पर बैठकर सचिवालय आई हैं उसी तरह से इसी स्कूटी पर बैठकर वापस घर लौटेंगी।

admin