अब बेटे ने मां से मांगा डेढ़ करोड़ का मुआवजा

पुणे


दो साल की उम्र छोड़ा लावारिस

फिल्मों में मेकअप आर्टिस्ट के तौर पर काम करने वाले एक व्यक्ति ने अपनी मां और उनके पति से डेढ़ करोड़ रुपए का मुआवजा मांगा है। बॉम्बे हाईकोर्ट में दाखिल याचिका में व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि उसकी मां ने 38 साल पहले मुंबई में उसे महज 2 वर्ष की उम्र में अकेला लावारिस छोड़ दिया था। अब भी वे उसे अपने बेटे के रूप में स्वीकार नहीं कर रही हैं।

40 वर्षीय याचिकाकर्ता श्रीकांत सबनिस के अनुसार, उनकी मां आरती म्हास्कर की शादी दीपक सबनिस से हुई थी। वे फरवरी 1979 में पुणे में पैदा हुए। श्रीकांत का कहना है कि आरती महत्वाकांक्षी थीं और मुंबई जाकर फिल्मों में काम करना चाहती थीं। सितंबर 1981 में श्रीकांत को लेकर आरती मुंबई आ गईं और बाद में उसे मुंबई में ही ट्रेन में छोड़कर चली गईं। श्रीकांत एक रेल अधिकारी को लावारिस हालात में मिले, जिन्होंने उसे बालगृह में भेज दिया। 1986 में श्रीकांत की नानी ने उनकी कानूनी कस्टडी हासिल की। वे शुरू में उनके साथ रहे, लेकिन बाद में उनकी मौaसी ने उन्हें पाला। याची के अनुसार, साल 2017 में उसे अपनी खून के रिश्ते की मां का पता चला। उन्होंने उनका फोन नंबर जुटा सितंबर 2018 में संपर्क किया।

admin