ज्योतिरादित्य की चेतावनी पर कमलनाथ ने कहा “तो उतर जाएँ” (सड़क पर)

विभव देव शुक्ला

मध्यप्रदेश की राजनीति में फिलहाल काफी हलचल है। कुछ समय पहले तक हलचल नज़र नहीं आ रही थी लेकिन अभी सब कुछ सामने है। लोगों की निगाहों के ठीक सामने, जिसका असर राजनीति पर पड़ ही रहा है साथ ही साथ लोगों पर भी बराबर पड़ेगा।
ठीक एक दिन पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किसानों की कर्ज़माफ़ी पर बयान दिया। ऐसा बयान जो मिजाज़ में किसी चेतावनी से कम नहीं था, बयान में सड़कों पर उतरने की बात कही गई। जिसका जवाब मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दिया है।

क्यों हो रही कर्ज़माफी में परेशानी
बीते दिन मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री गोविंद सिंह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कई बातें कही थीं। उनका कहना था कि राहुल गांधी ने वादा किया था अगर प्रदेश में हमारी सरकार बनती है तो हम 10 दिन के अंदर किसानों के 2 लाख रुपए तक के कर्ज़ माफ कर देंगे लेकिन हम नहीं कर पाए। विपक्ष का कहना है कि हमने जनता के साथ धोखा किया है। मैं बस इतना कहना चाहता हूँ कि अभी हालात मुश्किल हैं इसलिए हमें कर्ज़ माफ करने में परेशानी हो रही है।

क्या कहा दिग्गजों ने
इस बात का ज़िक्र राजनीतिक गलियों में शुरू हुआ, इस कड़ी में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मामले पर बयान दिया। ज्योतिरादित्य ने कहा “ऐसा संभव ही नहीं है कि कांग्रेस कोई वादा करे और उसे पूरा न करे। अगर हमारी सरकार ने कोई वादा किया है तो उसे पूरा करना हमारी ज़िम्मेदारी है नहीं तो सड़क पर उतरना पड़ेगा।”
यह बयान सुनने और समझने में भले सहज लगता हो लेकिन इसका असर भी बड़े पैमाने पर हुआ। बयान पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है। मीडिया वालों ने अपने सवाल में इस बात का ज़िक्र किया कि कर्ज़ माफ न हो पाने की सूरत में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सड़क पर उतरने की चेतावनी दी है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दो टूक जवाब देते हुए महज़ 3 शब्दों में कहा ‘तो उतर जाएँ।’

admin