इंदौर में हर 2771 लोगों में से एक कोरोना पीड़ित, देश में चौथे क्रम पर

विनोद शर्मा | इंदौर

औसत के मामले में देश के छोटे से बड़े सभी शहरों को पीछे छोड़ चुका इंदौर

कोरोना के कारण इंदौर में हर 2771 लोगों में से एक व्यक्ति संक्रमित हो चुका है। कोरोना संक्रमितों के साथ ही यह अनुपात भी लगातार घट रहा है। आबादी और संक्रमितों के इस अनुपात के आधार पर इंदौर देश के सभी शहरों को पीछे छोड़ चुका है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार देश के 16 शहर ऐसे हैं, जहां संक्रमितों की संख्या 150 से अधिक है। इनमें सबसे कम आबादी आंध्रप्रदेश के कुरनुल की है। यहां 6.25 लाख की आबादी में से 158 संक्रमित है। यानी औसतन प्रति 3924 लोगों पर एक व्यक्ति संक्रमित है। दूसरा छोटा शहर केरल का कासरगोड है। यहां 16 लाख लोगों पर 9585 लोग/संक्रमित के औसत से 169 संकमित है। ऐसे छोटे शहरों को भी देश का सबसे साफ-स्वच्छ शहर इंदौर पीछे छोड़ चुका है। शहर की आबादी 25 लाख है। 200 से अधिक कॉलोनियों में 25 मार्च से 18 अप्रैल के बीच 897 संक्रमित मिले हैं। यानी इंदौर में प्रति 2771 लोगों पर एक व्यक्ति संक्रमित हो रहा है।

अभी इंदौर में संक्रमण का कहर ठहरा नहीं है। रोज आंकड़े बढ़ रहे हैं। ऐसे में आबादी और संक्रमितों के बीच का अनुपात लगातार कम होगा ही। जिसे लेकर प्रशासन चिंतित है। कंटेनमेंट एरिया बढ़ने के बाद नए क्षेत्रों से सामने आ रहे मरीज चिंता पैदा कर रहे हैं। आशंका जताई जा रही है कि शहर में पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या ज्यादा है जो प्रशासन की पकड़ से दूर है। उन्हीं के संपर्क में आने से नए क्षेत्रों में संक्रमण फैल रहा है।

मरने वाले भी सबसे ज्यादा

देश में 16136 संक्रमितों में से 3.28 प्रतिशत के हिसाब से 530 की मौत हुई है। वहीं इंदौर में 899 संक्रमितों में से 52 की मौत हुई। औसत 5.61 प्रतिशत। इस तरह संक्रमण का शिकार होने वाले शहरों में भी इंदौर दूसरे से आगे है। जो चिंता का विषय है। हालांकि प्रशासन अब दावा कर रहा है कि कोरोना पीड़ितां की संख्या में तेजी से कमी आ रही है।

admin