आम आदमी पार्टी की जीत की खुशी में एक चीज़ रही नदारद

विभव देव शुक्ला

दिल्ली विधानसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं, दिल्ली की जनता ने आम आदमी पार्टी को जनता की अगुवाई करने का मौका दिया है। पूरे चुनाव में ऐसी तमाम घटनाएँ हुईं जो खबरों का कारण बनीं और यह सिलसिला चुनाव के नतीजे आने के बाद भी जारी है। चाहे बयान हों या दावे, नतीजे आने बाद भी हलचल का दौर जारी है। इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी से जुड़ी एक खबर आई है जो आम तौर पर सुनने में नहीं आती है।

बिन पटाखों की खुशी
आम आदमी पार्टी के सभी कार्यकर्ता जीत की खुशी मनाने की तैयारी कर रहे थे, पटाखों के साथ। तभी पार्टी मुखिया ने पहले कार्यकर्ता और उसके बाद आम जनता को हैरान करने वाला आदेश दिया। उन्होंने कहा कि जीत की खुशी में कोई पटाखे नहीं जलाए जाएंगे, जो कुछ भी होगा उसमें पटाखे शामिल नहीं होंगे।
इतने अहम कदम की वजह भी बेहद साफ थी, जिससे दिल्ली के वातावरण को सुरक्षित रखा जा सके। प्रदूषण में किसी भी तरह की बढ़ोतरी न हो चाहे वायु प्रदूषण हो या ध्वनि प्रदूषण। दिल्ली की दूषित हवा को आम आदमी पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में भी प्राथमिकता दी है। उनका कहना है कि सरकार बनने पर वह प्रदूषण के लिए हर मोर्चे पर सक्रिय होंगे जिससे दिल्ली की हवा में बदलाव नज़र आए।

हालात नहीं हैं अच्छे
बीते साल ऐसा देखा गया कि दिवाली के काफी समय बाद तक राजधानी की हवा बहुत ज़्यादा दूषित थी। कई दिनों तक दिल्ली और आस-पास के इलाकों का एयर क्वालिटी इंडेक्स बहुत बुरी स्थिति में था। बीते कुछ दिनों से एयर क्वालिटी इंडेक्स की गुणवत्ता में गिरावट दर्ज की गई थी और इंडियन मेट्रोलोजिकल विभाग का कहना था कि इस तरह के हालात कई दिनों तक बने रहने वाले हैं।
पार्टी आलाकमान से पटाखे न जलाने का आदेश जारी होने के बाद कार्यकर्ताओं ने जीत की खुशी मनाने के दूसरे तरीके अपनाए। पार्टी मुख्यालय पर ढोल और मिठाइयाँ बुलाए गए, इसके अलावा कार्यकर्ताओं ने भारी मात्रा में गुलाल भी मंगाया। उसके बाद पार्टी से जुड़े लोगों ने जीत की खुशी मनाई। आम तौर पर ऐसा देखने का मौका नहीं मिलता है जब एक पार्टी बिना पटाखों के अपनी जीत की खुशी मनाती है।

admin