न्यूजीलैंड में सिर्फ 1 मरीज अस्पताल में, सऊदी अरब में लॉकडाउन खत्म

वेलिंग्टन/रियाद

दुनिया में कोरोना… अब तक 56 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित और तीन लाख 49 हजार से अधिक लोग की मौत हो चुकी है, वहीं 24 लाख से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए

न्यूजीलैंड ने कोरोना संक्रमण से निपटने के मामले में पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल पेश की है। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने मंगलवार को बताया कि देश में इस समय सिर्फ एक ही कोरोना संक्रमित अस्पताल में एडमिट है और पूरे देश में सिर्फ 22 मामले ही बचे हैं। इन बाकी मामलों में कोई भी सीरियस नहीं है और कुछ सिर्फ एहतियात के चलते सेल्फ आइसोलेशन में हैं।

करीब पचास लाख लोगों के इस देश में अब तक कोरोना संक्रमण के 1500 मामले सामने आए हैं और 21 लोगों की मौत हुई है। न्यूजीलैंड की हेल्थ मिनिस्ट्री ने मंगलवार को बताया कि स्वास्थ्य अधिकारियों को भरोसा है कि उन्होंने देश में घरेलू संक्रमण के चक्र को तोड़ दिया है। मई महीने में नए मामले सामने नहीं आ रहे हैं। न्यूज़ीलैंड के अधिकतर हिस्सों से लॉकडाउन हटा दिया गया है।

वहीं सऊदी अरब में गुरुवार से लॉकडाउन में राहत देने का फैसला किया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक मक्का को छोड़कर पूरे देश से कर्फ्यू खत्म किया जा रहा है। हालांकि मक्का में कर्फ्यू खत्म करने का फैसला 21 जून से लागू होगा। साथ ही 31 मई के बाद से घरेलू उड़ानों पर लगी रोक और मस्जिदों में नमाज पर प्रतिबंध को भी हटा लिया जाएगा। लोगों को सार्वजनिक और निजी कंपनियों के दफ़्तरों में काम पर जाने की अनुमति भी होगी। मक्का में कर्फ्यू का समय दोपहर तीन बजे से सुबह छह बजे तक रहेगा। 21 जून के बाद से मस्जिदों में नमाज़ पढ़ने की अनुमति होगी।

दूसरी तरफ जब न्यूज़ीलैंड अपनी सीमा को विदेशी नागरिकों के लिए खोलेगा तो हालात चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं। पीएम जैसिंडा आर्डर्न ने कहा, ‘न्यूज़ीलैंड वासियों के स्वास्थ्य को लेकर जो उपलब्धियां हमने हासिल कर ली हैं, वह तारीफ के काबिल है लेकिन अभी भी खतरा टला नहीं है और कुछ पाबंदियां जारी रहेंगी।’ महज 37 साल की उम्र में 2017 में न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री बनी जेसिंडा आर्डर्न कोरोना पर काबू पाने के बाद दुनिया के प्रभावशाली नेताओं में शामिल हो गई हैं।

चीनी विशेषज्ञ ने चेताया, ‘और फैल सकते हैं ऐसे वायरस’

पूरी दुनिया में ‘बैट वुमन’ के नाम जानी जाने वाली चीन की एक प्रमुख वायरोलॉजिस्टन शी झेंगली ने सरकारी टीवी पर दिए इंटरव्यू में नए वायरस के फैलने की ओर आगाह किया और चेतावनी देते हुए कहा है कि कोरोना वायरस महज एक शुरुआत है। अगर हम इंसानों को आगे किसी भी संक्रामक रोग के प्रकोप से बचाना चाहते हैं, तो हमें इसके लिए पहले से ही जंगली जानवरों द्वारा फैलाए गए अज्ञात वायरस के बारे में जानना चाहिए और इनका अध्ययन नहीं करेंगे, तो आगे चल कर फिर कोई दूसरी महामारी फैलेगी।’

रोका गया हाइड्रॉक्सिक्लोरोक्विन का ट्रायल, ट्वीट कर दी जानकारी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना के मरीजों पर हाइड्रॉक्सिक्लोरोक्विन के इस्तेमाल के बारे में जारी क्लिनिकल ट्रायल को अस्थायी तौर पर रोकने का फैसला किया है। डब्ल्यूएचओ ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। इसके निदेशक डॉ. टेड्रॉस एडहॉनम गीब्रियेसुस ने कहा कि इस दवा के सुरक्षित इस्तेमाल के बारे में डेटा सेफ्टी मॉनिटरिंग बोर्ड अध्ययन करेगा और इस दवा से जुड़े प्रयोगों का व्यापक स्तार पर विश्लेषण होगा। हाइड्रॉक्सिक्लोरोक्विन और क्लोरोक्विन का इस्तेमाल मलेरिया के मरीजों आदि पर किया जाता है, मगर कोरोना के मरीजों में इस दवा के इस्तेमाल को लेकर चिंता जताई जा रही है।

पाकिस्तान में संक्रमण के मामले 57 हजार से ऊपर पहुंचे

पाकिस्तान में लॉकडाउन खुलने के बाद कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 1,356 नए मामले सामने आए हैं और 30 लोगों की इससे मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 57,705 हो गए हैं और अब तक इससे 1,197 लोगों की मौत हो चुकी है। 57,705 मामलों में से सिंध में अब तक 22,934, पंजाब में 20,654, खैबर-पख्तूनख्वा में 8,080, बलूचिस्तान में 3,468, इस्लामाबाद में 1,728, गिलगित-बाल्टिस्तान में 630 और पीओके में 211 मामले सामने आए हैं।

कोलंबो में खोले गए कुछ होटल और रेस्तरां

श्रीलंका में कोरोना वायरस के ‘हॉटस्पॉट’ में से एक कोलंबो में मंगलवार से कुछ होटलों और रेस्तराओं को खोलने की इजाजत दी गई और राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन में दी जा रही रियायतों के तहत यह कदम उठाए जा रहे हैं। इसके तहत कर्फ्यू के घंटों में भी कटौती की जा रही है। राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने शनिवार को कहा था कि श्रीलंका 26 मई से पाबंदियों में कुछ रियायत देगा जिसमें कर्फ्यू की सीमा भी घटाकर रात 10 बजे से सुबह चार बजे तक की जाएगी। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए श्रीलंका में 20 मार्च से ही 24 घंटे का कर्फ्यू लागू है। इस दौरान हालांकि ऐसे कुछ इलाकों में कर्फ्यू में ढील दी जाती रही है जहां इस घातक वायरस का प्रसार खतरनाक नहीं माना गया। कोलंबो और गंपाहा जिलों को कोरोना वायरस हॉटस्पॉट (सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र) के तौर पर चिन्हित किया गया था। कोलंबो नगर परिषद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी रुवन विजेमुनी ने कहा कि सरकारी पर्यटन बोर्ड ने कोलंबो में सख्त स्वास्थ्य दिशानिर्देशों के साथ रेस्तराओं को खोलने की मंजूरी दी है।

मिस्र में डॉक्टरों ने की सरकार की आलोचना

मिस्र में स्वास्थ्यकर्मियों में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों के लिए मेडिकल यूनियन ने सरकार को ज़िम्मेदार ठहराया है। यूनियन ने सुरक्षा उपकरणों और मेडिकल स्टाफ़ के लिए अस्पतालों में बिस्तरों की कमी को आपराधिक लापरवाही कहा है।

अमेरिका में 99 हजार से अधिक मौतें

अमेरिका में सोमवार को संक्रमण के 19,700 नए केस सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर अब 17 लाख से भी ज्यादा हो गए हैं। बीते 24 घंटे में यहां संक्रमण से 505 लोगों की मौत भी हो गयी जिसके बाद कुल मौतें बढ़कर अब 99,800 से भी ज्यादा हो गईं हैं।

ब्राजील में 3,76,660 से भी ज्यादा संक्रमित

ब्राजील के राष्ट्रपति देश में बढ़ते संक्रमण के मामलों के बाद आलोचना के केंद्र में आ गए हैं। सोमवार को यहां संक्रमण के 13,000 से ज्यादा नए केस सामने आए जिसके बाद कुल केस अब 3,76,660 से भी ज्यादा हो गए हैं। दौनिक मौतों के मामले में ब्राजील अब अमेरिका से भी आगे चल रहा है, सोमवार को यहां 806 लोगों की संक्रमण से मौत हुई जिसके बाद कुल मौतों की संख्या बढ़कर अब 23,500 से भी ज्यादा हो गईं है।

admin