एयर इंडिया से जुड़े लोगों को परेशान होने की ज़रूरत नहीं है यह बंद नहीं होगा – चेयरमैन (एयरइंडिया)

विभव देव शुक्ला

एयर इंडिया अक्सर सुर्खियों में बना रहता है और हर समय सुर्खियों के पीछे कोई मज़बूत वजह होती है। कभी अच्छी वजहें और कभी अजीब वजहें लेकिन दोनों ही सूरतों में आम लोगों को ख़बरें मिलती ज़रूर हैं। बीते कुछ समय से एयर इंडिया से जुड़ी ख़बरें लगभग एक ही पहलू पर होतीं थीं। एयर इंडिया पर मंडरा रहे संकट की क्या स्थिति है? यह संकट कब तक एयर इंडिया पर बना रहने वाला है?

सुविधाएं मिलती रहेंगी
लेकिन इस तरह की हर सुर्खियों पर फिलहाल के लिए रोक लग गई है। क्योंकि एयर इंडिया बंद नहीं होगा, ऐसा किसी और ने नहीं बल्कि एयर इंडिया के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर अश्विनी लोहानी ने कहा। उन्होंने कहा एयर इंडिया के बंद होने से जुड़ी हर तरह की ख़बरें झूठी हैं इनमें बिलकुल भी सच्चाई नहीं है। एयर इंडिया हमेशा की तरह काम करती रहेगी, इसके जहाज उड़ते रहेंगे और आम लोगों को एयर इंडिया की सुविधाएं मिलती रहेंगी।

केंद्रीय मंत्री ने ली थी बैठक
इसके बाद उन्होंने कहा आज भी एयर इंडिया की पहचान देश की सबसे बड़ी एयर लाइन के तौर पर है। इसलिए एयर इंडिया के यात्रियों, एजेन्टों और कॉर्पोरेट जगत से जुड़े लोगों को इस बारे में चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है। अश्विनी लोहानी की तरफ से यह प्रतिक्रिया तब आई जब केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एयर इंडिया यूनियन के प्रतिनिधिनियों के साथ बैठक की। इस बैठक की सबसे बड़ी वजह थी निजीकरण के तमाम पहलुओं पर चर्चा करना था।

बेचना कभी विकल्प नहीं
इस बारे में केंद्र सरकार ने भी अपना मत साफ कर दिया है। इसके पहले हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि ‘मैंने पहले भी कहा है एयर इंडिया को बंद कर देना हमारे लिए कोई विकल्प नहीं है। बल्कि एयर इंडिया का निजीकरण करना ही होगा और यही इसके लिए बेहतर है। कर्ज़ के चलते एयर इंडिया की बुनियादी हालत भले सही नहीं है और हमें इसमें जल्द से जल्द सुधार करना होगा। फिलहाल के लिए जिसका सबसे बेहतर तरीका है निजीकरण।

admin