पीएमसी घोटाला : पूर्व विधायक हितेंद्र ठाकुर की 34 करोड़ की संपत्ति जब्त

मुंबई । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महाराष्ट्र एंड पंजाब को-ऑपरेटिव बैंक (पीएमसी) घोटाले में पूर्व विधायक हितेंद्र ठाकुर के विवा ग्रुप की 34 करोड़ 36 लाख रुपये की संपत्ति को जब्त किया है। इनमें मुंबई, ठाणे, विरार आदि इलाके के फ्लैट, कार्यालय, फार्म हाउस शामिल हैं।

जानकारी के अनुसार पीएमसी घोटाले में ईडी ने 23 जनवरी को पूर्व विधायक हितेंद्र ठाकुर के भतीजे मेहुल ठाकुर व वीवा ग्रुप के संचालक मदन चतुर्वेदी को गिरफ्तार किया था। इन दोनों की गहन पूछताछ के बाद ईडी ने सोमवार को वीवा ग्रुप की अंधेरी में स्थित मैकस्टार कंपनी के कार्यालय, विरार में विवा ग्रुप के कार्यालय व फार्महाउस आदि संपत्ति जब्त किया। यह कार्रवाई देर रात तक जारी थी। ईडी सूत्रों के अनुसार बहुत जल्द हितेंद्र ठाकुर व उनके भाई जयेश ठाकुर को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। यह कार्रवाई ईडी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के नेतृत्व में की गई है।

उल्लेखनीय है कि ईडी पीएमसी घोटाले की मनी लॉड्रिंग एंगल से छानबीन कर रही है। पीएमसी घोटाले में की जा रही छानबीन में हाउसिंग डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएल) के माध्यम से बड़े पैमाने पर अवैध तरीके से कर्ज की निकासी की गई है। इस मामले में शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत के नजदीकी प्रवीण राऊत को ईडी गिरफ्तार कर चुकी है और संजय राऊत की पत्नी से पूछताछ कर चुकी है। मामले की गहन पूछताछ ईडी कर रही है।

admin