आरबीआई की मौद्रिक नीति को लेकर बड़ी घोषणा, जीडीपी में 10.5 फीसदी वृद्धि का अनुमान

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शुक्रवार को हुई अपनी प्रेस कान्फ्रन्स मे नई क्रेडिट पॉलिसी (New Credit Policy) का ऐलान किया है। गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का संचालन किया। RBI ने इस बार भी कोई ब्याज दरों में बदलाव नहीं किया है। आम बजट के बाद बड़ी उम्मीद लगाए बैठे थे मिडिल क्लास, उन्हे एक बार फिर निराशा हाथ लगी है। अगले वित्त वर्ष में GDP वृद्धि दर 10.5 प्रतिशत रहने का अनुमान।

बताया जा रहा है की RBI की नजर लॉकडाउन और कोरोना से हुए राजकोषीय घाटे को कम करने पर है। माना जा रहा है कि मौद्रिक नीति समिति (MPC) नीतिगत ब्याज दर को स्थिर रखते हुए नरम रुख को जारी रखेगी। गौरतलब है कि आम बजट 2021-22 पेश होने के बाद पहली बार रिजर्व बैंक ने क्रेडिट पॉलिसी की समीक्षा की है।

आरबीआई ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है, इसका मतलब रेपो रेट अभी भी 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर ही रहेगी। बैंक पिछले साल फरवरी से रेपो दर में 1.15 फीसदी की कटौती कर चुका है।कोरोनॉयरस महामारी-हिट 2020-21 के वित्तीय वर्ष में, RBI ने बैंकिंग प्रणाली को अतिरिक्त तरलता की अनुमति देने के लिए नीतिगत दरों को एक तरह से रखा। गवर्नर ने बताया कि जनवरी-मार्च के बीच महंगाई दर 5.2 फीसदी तक रह सकती है।

admin