2007 में ज्यादा रन बनाने के बाद भी वनडे से हटाया

नई दिल्ली

पूर्व भारतीय कप्तान गांगुली का खुलासा

बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने अपने इंटरनेशनल करियर को लेकर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि मैं अभी तक इस बात को नहीं पचा पाया कि 2007 में ज्यादा रन बनाने के बावजूद मुझे वनडे टीम से हटा दिया गया था।

गांगुली ने एक बंगाली अखबार को दिए इंटरव्यू में यह बात कही। उन्होंने इस इंटरव्यू में कहा कि यह फैसला मेरे लिए हैरान करने वाला था। मुझे वनडे टीम से तब हटाया गया था, जब मैंने उस कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाए थे। उन्होंने आगे कहा कि अगर मुझे दो और वनडे सीरीज मिलती, तो मैं और ज्यादा रन बनाता। अगर मैं नागपुर में 2008 में संन्यास नहीं लेता, तो मैं अगली दो सीरीज में भी रन बनाता।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम से बाहर कर दिया गया था

गांगुली को 2005 में कोच ग्रैग चैपल के साथ विवाद के बाद कप्तानी और टीम से बाहर होना पड़ा था। हालांकि, उन्होंने 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज से दमदार वापसी की थी और लगातार रन बनाए। इसके बावजूद उन्हें और राहुल द्रविड़ को 2007-08 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम से बाहर कर दिया गया था। इसके एक साल बाद गांगुली ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

 

admin